पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विस्फोटक होता जा रहा उज्जैन:5 दिन में ही 367 नए मरीज, 3 मौतें हो गईं, सरकारी और निजी अस्पताल फुल

उज्जैन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दूसरी लहर की शुरुआत ही पीक जैसी प्रदेश में होगा नंबर-4

कोरोना से हालात फिर विस्फोटक होते जा रहे हैं। दूसरी लहर की शुरुआत ही पीक जैसी लग रही है। ऐसे हालात 2020 सितंबर में हुए थे। तब कोरोना के 7 महीने बीतने के बाद पीक आया था और संक्रमितों की संख्या 1170 पर पहुंची थी।

मौतें भी 14 हो गई थीं। इसके बाद सुधार शुरू हुआ था और हम डेंजर जोन से बाहर आए। अब हम फिर वहीं आ खड़े हुए हैं। इस बार दूसरी लहर की शुरुआत ही पीक से हुई है। पहला महीना ही डेंजर जोन साबित हो रहा है और संक्रमण की रफ्तार हमें प्रदेश में चौथे नंंबर पर ले जा रही है।

मार्च में अब तक 886 मरीज संक्रमित हो चुके हैं। सिर्फ 5 दिनों की बात करें तो 367 नए मरीज मिल चुके हैं। इन दिनों में 3 मौतें हो गई हैं। यही कारण है कि लॉकडाउन संडे के लिए लौट आया है। अब भी हम नहीं संभले तो पहले जैसा लॉकडाउन आ सकता है।

समझदार उज्जैनी : लॉकडाउन का पूरा पालन किया
लंबी राहत के बाद लॉकडा‌उन लौट आया है। संडे लॉकडाउन का पालन उज्जैनियों ने समझदारी से किया। अधिकांश लोग घरों में रहे। उल्लंघन के 34 ही केस बने। ये वे लोग थे, जो बिना किसी कारण से बाहर निकले।

और ऐसे भी लोग रहे जो मेडिकल इमर्जेंसी के कारण बाहर आए। किसी के परिजन भर्ती थे, तो कोई अपनों के लिए दवा लेने निकला था। सबसे ज्यादा परेशान हुए बाहर से लौटने वाले। नाकेबंदी के कारण बाहर से आ रहे लोगों को लौटा दिया। बसें भी रोक दी गईं। यात्रियों को पैदल ही घर तक आना पड़ा, क्योंकि पब्लिक ट्रांसपोर्ट भी बंद था।

इंदौर, भोपाल और जबलपुर के बाद चौथा सबसे ज्यादा पॉजिटिव केस वाला जिला बनता जा रहा उज्जैन
प्रदेश में कोरोना संक्रमण से विस्फोटक हालात बनते जा रहे हैं। रविवार को 2276 नए संक्रमित मिले, जबकि 11 मरीजों की मौत हो गई। ये दोनों ही इस साल में अब तक के सबसे बड़े आंकड़े हैं। भोपाल में 469 संक्रमित मिले। यहां लगातार तीसरा दिन है, जब एक दिन में 450 से ज्यादा संक्रमित मिले।

अब सभी 52 जिलों में हर दिन संक्रमित मिल रहे हैं, लेकिन तीन जिले भोपाल, इंदौर और जबलपुर बाकी 49 जिलों पर भारी हैं, क्योंकि हर दिन मिलने वाले संक्रमितों में से 55 फीसदी मरीज सिर्फ इन तीन जिलों के हैं। इधर, उज्जैन में रविवार को 72 केस मिले। मार्च माह में 886 पॉजिटिव केस हो गए। इस तरह उज्जैन प्रदेश में चौथा सबसे ज्यादा केस वाला जिला बनता जा रहा है। सबसे ज्यादा संक्रमित इंदौर में मिल रहे तो एक्टिव केस भोपाल में बढ़ रहे। यहां अभी 3768 तो इंदौर में 3123 एक्टिव केस हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

    और पढ़ें