समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी / पुडुचेरी, कोलकाता, जयपुर से रोज आ रही 525 गठान बारदान, हमारी जरूरत 800 की

525 bales of gunny bags coming daily from Puducherry, Kolkata, Jaipur, we need 800
X
525 bales of gunny bags coming daily from Puducherry, Kolkata, Jaipur, we need 800

  • कलेक्टर के निरीक्षण से सुधरी व्यवस्था पर कई केंद्रों पर सुधार नहीं
  • रेलवे की से 8650 टन गेहूं का परिवहन, सड़क मार्ग से 35 ट्रक रोज भेज रहे इटारसी
  • न बारदान मिले न परिवहन हाे रहा, कतार में लगे किसान, सोशल डिस्टेंसिंग भूले

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:06 AM IST

उज्जैन. पुडुचेरी, कोलकाता, रायसेन और जयपुर से रोज 525 गठान बारदान की आ रही हैं लेकिन यह पर्याप्त नहीं हैं। जिले की जरूरत 800 गठान की है। ऐसे में समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी की व्यवस्था बेपटरी हो रही है। खरीदी केंद्रों पर बारदान नहीं हैं। जो उपज किसानों से खरीदी है उसका परिवहन नहीं हो रहा है। 
कलेक्टर आशीष सिंह ने शुक्रवार को जिला मुख्यालय के जिन केंद्रों का जायजा लिया वहां की व्यवस्थाएं सुधरने लगी हैं लेकिन जिले के सभी केंद्रों पर ऐसा नहीं है। भास्कर टीम ने जिले के अलग-अलग खरीदी केंद्रों के संबंध में किसानों से चर्चा की। उनका कहना है कि लंबी कतारों में लगने के बाद पता चलता है कि यहां तो बारदान ही नहीं है। बारदान है तो जो उपज पहले से तौली गई है वह खुले आसमान के नीचे पड़ी है। इसका हवाला देकर किसानों से उनकी उपज नहीं खरीदी जा रही है या उन्हें लंबा इंतजार करवाया जा रहा है।
20300 गठान आई, 4 हजार की और जरुरत 
समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी शुरू हुए शनिवार को 63 दिन पूरे हो गए। खरीदी के लिए 176 केंद्र बनाए थे। जिले के सबसे बड़े खरीदी केंद्र सायलो मानपुर पर 14 सोसायटियों के पंजीकृत किसानों से खरीदी बंद हाे गई है। यह पूरी क्षमता (50 हजार टन) से भर गया है। अब जिले के 175 केंद्रों में खरीदी जारी रही है। जो सायलो में उपज नहीं बेच पाए उनके लिए दूसरे केंद्र बनाए हैं। अब उन्हें भोपाल एनआईसी से उन्हीं केंद्रों के एसएमएस आएंगे। जिला आपूर्ति अफसर एलएम मारू के अनुसार शनिवार तक 5 लाख टन गेहूूं खरीदी हुई है।समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लिए पहले 26 मई तय थी उसे 30 मई तक बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा है। उनका कहना है कि अब तक 20300 गठान बारदान की आ चुकी हैं। हमें चार हजार गठानों की जरूरत और है। इसमें से रोज 525 गठान ही मिल पा रही हैं जबकि हमें 800 गठानों की जरूरत है। डीएमओ राकेश हेड़ाऊ के अनुसार अब तक रेल के तीन रैक भेज चुके हैं। दो रैक 2650 टन के थे और एक 3350 टन का। रविवार को महिदपुर रोड पर एक अन्य रैक लगने की संभावना है ताकि महिदपुर तहसील और आसपास के केंद्रों पर खरीदे गेहूं का परिवहन किया जा सके। इसके अलावा सड़क मार्ग से रोज 35 ट्रक गेहूं इटारसी पहुंचाए जा रहे हैं। एक सप्ताह में व्यवस्था में सुधार आ जाएगा। 63 दिन हुए खरीदी 
करते हुए

संभागायुक्त ने किया निरीक्षण

संभागायुक्त आनंद कुमार शर्मा और कलेक्टर  आशीष  सिंह ने कनीपुरा रोड स्थित मारुति वेयर हाउस पर खरीदी केंद्र तथा चिकली में स्थापित किए खरीदी केंद्र का निरीक्षण किया। संभागायुक्त ने कानीपुरा रोड के मारुति वेयर हाउसिंग पर चना एवं गेहूं खरीदी के कार्य का निरीक्षण किया। यहां की जा रही खरीदी व्यवस्था पर संतोष जताया। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना