पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • After Online Booking, There Will Be Seven Slots From 6 Am To 8 Pm, There Will Be No Entry In The Sanctum, Sanctum And Nandi Hall

28 जून से महाकाल दर्शन की गाइडलाइन:ऑनलाइन बुकिंग के बाद 7 स्लॉट में दर्शन, 22 जून के बाद परमिशन की खुलेगी लिंक; नियमों के उल्लंघन पर दर्ज होगी FIR

उज्जैन3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महाकालेश्वर मंदिर 28 जून से खोलने के निर्णय के बाद तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। श्रद्धालुओं को दर्शन के लिए ऑनलाइन बुकिंग करवानी होगी। इसके बाद वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट या 24 से 48 घंटे पूर्व की कोविड निगेटिव रिपोर्ट दिखाने पर ही मंदिर परिसर में प्रवेश दिया जाएगा। सुबह 6 से रात 8 बजे तक सात स्लॉट में दर्शन करवाए जाएंगे।

इसके अलावा, गर्भगृह और नंदी हॉल में दर्शनार्थियों को प्रवेश नहीं मिलेगा। मंदिर परिसर में स्थित सभी देवस्थान दर्शन के लिए खुले रहेंगे। इस दौरान वैक्सीन सर्टिफिकेट या मैसेज को बदलकर या किसी दूसरे के सर्टिफिकेट के नाम से मंदिर में प्रवेश करने वाले श्रद्धालुओं के खिलाफ FIR दर्ज होगी। 22 जून के बाद ऑनलाइन परमिशन की लिंक खुलेगी।

इस संबंध में गुरुवार को कलेक्टर आशीष सिंह की अध्यक्षता में मंदिर प्रबंध समिति की बैठक हुई। बैठक में दर्शनों के संबंध में गाइडलाइन तय की गई है। इस बार श्रावण महोत्सव स्थगित करने का निर्णय लिया गया है।बैठक में SP सत्येन्द्र कुमार शुक्ल, प्रबंध समिति के सदस्य विनीत गिरि महाराज, आशीष पुजारी, विजयशंकर शर्मा, दीपक मित्तल, प्रशासक नरेन्द्र सूर्यवंशी, नगर निगम आयुक्त क्षितिज सिंघल, UDA CEO एसएस रावत, स्मार्ट सिटी CEO जितेन्द्र सिंह चौहान, प्रदीप गुरु मौजूद थे।

महाकाल मंदिर में प्रवेश के लिए नए द्वार

बैठक के बाद बताया गया कि भगवान महाकालेश्वर मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए 28 जून से दर्शन प्रारंभ होंगे। जिसके लिए ऑनलाइन बुकिंग कराने के बाद वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट या 24 से 48 घंटे पूर्व की कोविड रिपोर्ट दिखाने पर ही मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा। मंदिर परिसर में स्थित सभी देवस्थान दर्शन के लिए खुले रहेंगे। कलेक्टर आशीष सिंह ने कहा कि महाकाल मंदिर में मुख्य प्रवेश द्वार के सामने विस्तारीकरण का कार्य चलने के कारण से गेट को बंद किया गया है। फिलहाल श्रद्धालुओं को 28 जून से गेट नंबर चार भस्मारती द्वार या फिर धर्मशाला के गेट से प्रवेश मिलेगा।

नियमों का करना होगा पालन

महाकाल मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं को अब कई तरह के नियमों का पालन करना होगा। तभी मंदिर में प्रवेश मिल सकेगा और अगर किसी ने नियमों की अनदेखी कर मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश की तो उस के खिलाफ FIR की जाएगी। उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने कहा कि 22 जून से ऑनलाइन परमिशन की लिंक खुल जाएगी, लेकिन कोई भी श्रद्धालु वैक्सीन सर्टिफिकेट को बदलने या मैसेज को मैनपुलेटेड करने या फिर किसी दूसरे के सर्टिफिकेट पर महाकाल मंदिर में प्रवेश की कोशिश की तो उन श्रद्धालुओं के खिलाफ धारा 188 और 420 में मामला दर्ज कराया जाएगा।

147 मकानों को प्रति परिवार तीन लाख रुपए देंगे

महाकालेश्वर मंदिर के समीप स्थित भूमि पर अतिक्रमित 147 मकानों में रहने वाले 250 परिवारों को हटाकर प्रति परिवार तीन लाख रुपए के मान से राशि देने का निर्णय लिया गया। इनके हटने से करीब 1.6 हेक्टेयर भूमि मंदिर परिक्षेत्र विस्तार के लिए उपलब्ध होगी। इसी तरह, नीमनवासा स्थित 9.04 हेक्टेयर भूमि का तत्काल सीमांकन करवाकर बाउंड्री वाॅल और पंप हाउस निर्माण करने का निर्णय लिया है।

खबरें और भी हैं...