• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Bardan is not there, the line of vehicles reached from one village to another for four days, Annadata, who was meditating on the road in 43 degree temperature

मशक्कत / बारदान नहीं है, चार दिन से एक गांव से दूसरे गांव तक पहुंच गई वाहनों की लाइन, 43 डिग्री तापमान में सड़क पर तप रहे अन्नदाता

Bardan is not there, the line of vehicles reached from one village to another for four days, Annadata, who was meditating on the road in 43 degree temperature
X
Bardan is not there, the line of vehicles reached from one village to another for four days, Annadata, who was meditating on the road in 43 degree temperature

  • अन्न पैदा करने से बेचने तक में मशक्कत

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

बोलाई. किसानों को अन्नदाता के नाम से नवाजा जरूर गया है, लेकिन किसानों की समस्या व धरातल की वास्तविक स्थिति की अगर बात की जाए तो किसान की हालत खराब है। इन दिनों गेहूं खरीदी केंद्रों से आने वाली बोलती तस्वीरें बयां भी कर रही है। गांव मकोड़ी में लगे केंद्र पर भी किसानों की यही हालत देखी गई। बारदान की कमी के कारण वाहनों की कतार मकोड़ी के केंद्र से लगाकर 3 किमी दूर दूसरे गांव सकराई से भी बाहर तक पहुंच गई है।
किसानों ने फसल तैयार करने में जितना पसीना नहीं बहाया होगा उससे ज्यादा अब फसल बेचने में बहाना पड़ रहा है। चार दिनों से साढ़े 3 किमी लंबी लाइन में अपने वाहनों को खड़ा कर जंगलों में गर्मी से तपकर बेहाल होते हुए अपने नंबर का इंतजार कर रहे हैं। वहीं बारदान की कमी भी इन किसानों के लिए परेशानी का कारण बनी हुई है। मकोड़ी में दो दिनों से बारदान की कमी आ रही है। वहीं ऐसे ही हाल खरीदी केंद्र कुड़ाना, गुलाना व केथलाय में भी देखे जा रहे है। जहां पर चार दिनों से किसान अपने वाहनों के पास भूखे प्यासे रहकर अपनी उपज को सरकारी कांटे पर ताैलने के लिए लाइन में लगे हुए है और उधर सुबह 8 से रात 10 बजे तक काम करने वाले हम्मालों भी फुरसत में है।
वाहनों का भाड़ा भी पड़ रहा भारी
एक गांव से दूसरे गांव तक पहुंच गई वाहनों की लंबी लाइन में लगे किसानों ने बताया कि जंगल में दूर-दूर तक पानी नहीं है। थोड़ा बहुत पानी दूरदराज से लेकर आते है और थोड़ी सी देर में सब साथी किसान मिलकर पी जाते हैं। सिमरोल शु. के किसान घनश्याम पंवार ने बताया चार दिन से यहां पर रूके हुए है। गांव मकोड़ी के किसान मुकेश पाटीदार ने बताया कई बार बारदानों की समस्या आई है, लेकिन दो दिनों से बारदान नहीं है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना