पुलिस-प्रशासन की सख्ती:मिलावट करने पर बॉयोडीजल और टोस्ट फैक्टरी ध्वस्त, संचालकों के खिलाफ केस भी दर्ज किया

उज्जैनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नागझिरी एरिया में बने टोस्ट फैक्टरी को तोड़ती नगर निगम की जेसीबी। - Dainik Bhaskar
नागझिरी एरिया में बने टोस्ट फैक्टरी को तोड़ती नगर निगम की जेसीबी।
  • सेकरीन का उपयोग कर टोस्ट बनाए जा रहे थे, शंकरपुर में मिलावटी बॉयोडीजल बेचा जा रहा था

खाद्य अमले ने मंगलवार को दो बड़ी कार्रवाई की। मिलावटी बॉयोडीजल व हानिकारक सेकरीन से टोस्ट निर्माण करने वाली दो फैक्टरियों को ध्वस्त करा दिया। हालांकि दोनों कार्रवाई के दौरान संचालकों द्वारा विरोध जताया गया व दुहाई दी गई कि कर्ज लेकर फैक्टरी शुरू की है हम तो बर्बाद हो जाएंगे। पुलिस-प्रशासन ने इस बीच सख्ती के साथ दोनों फैक्टरियों को जमींदोज कर दिया। संचालकों के खिलाफ केस भी दर्ज कराया।

नागझिरी एरिया में गुलरेज खान व सुरेश शर्मा द्वारा नगर निगम की बिना अनुमति के फैक्टरी निर्माण कर वहां हानिकारक केमिकल का उपयोग कर टोस्ट बनाए जा रहे थे। 23 सितंबर को प्रशासनिक अमले द्वारा दबिश दिए जाने पर अनियमितताएं पकड़ी थी। जिसके बाद खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने 1736 किलो टोस्ट जब्त कर सेंपल जांच को प्रयोगशाला भिजवाया था।

जांच रिपोर्ट में टोस्ट में हानि कारण सेकरीन की पुष्टि पाई गई। जिसके बाद कलेक्टर के निर्देश पर मंगलवार को पुलिस व नगर निगम के अमले ने टोस्ट फैक्टरी को जमींदोज कर दिया। अधिकारियों ने बताया कि फैक्टरी भी अतिक्रमण कर बनाई गई थी।

बायोडीजल फैक्टरी से जब्त किया था लाइट पैराफिन

मक्सी रोड पर शंकरपुर क्षेत्र में ऋषिनगर निवासी शिवराज गुर्जर व रामनारायण भचान द्वारा संचालित की जा रही बाॅयोडीजल फैक्टरी भी ध्वस्त कर दी गई। उक्त फैक्टरी पर 8 अगस्त 2021 को खाद्य विभाग ने छापा मारा तो मिलावटी बाॅयोडीजल बनाने का खुलासा हुआ था। मौके से 50 किलो कास्टिक सोड़ा, 40 लीटर लाइट पैराफिन समेत अन्य सामग्री जब्त की थी।

इसी के बाद उक्त फैक्टरी को ध्वस्त किया गया व नकली बाॅयोडीजल बेचने पर फैक्टरी मालिक गुर्जर व दुकान संचालक कृष्णा हारोड के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 3/7 के तहत चिमनगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई।

खबरें और भी हैं...