पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्राइवेट इलाज:खुद के क्लिनिक पर मरीज का इलाज कर रहे थे सीएमएचओ डॉ. खंडेलवाल, वीडियो वायरल

उज्जैनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डॉक्टर्स को निजी प्रैक्टिस नहीं करने के आदेश दिए पर खुद अमल नहीं कर रहे

सीएमएचओ डॉ. महावीर खंडेलवाल शहर और जिले के अस्पतालों में मरीजों के इलाज के इंतजाम करने और अस्पतालों में बेहतर व्यवस्था करने की बजाए फ्रीगंज स्थित खुद के क्लिनिक पर मरीजों का इलाज करने में लगे हैं। शनिवार को इसका एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें वे अपने क्लिनिक पर मरीज का इलाज कर रहे हैं। उनके क्लिनिक के बाहर और मेडिकल स्टोर पर मरीजों की भीड़ लगी हुई है। डॉ. खंडेलवाल ने ही 28 अप्रैल को मेडिकल ऑफिसर तथा ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर को आदेश जारी किए थे कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग को आवश्यक सेवाओं में लिया गया है।

सरकारी हॉस्पिटल की बजाए डॉक्टर्स प्राइवेट क्लिनिक या अस्पताल में मरीजों का इलाज करते पाए जाएंगे तो उनके खिलाफ आपदा प्रबंधन 25 की धारा 56 में कठोर कार्रवाई की जाएगी। उसके बाद भी खुद ही अपने आदेश का पालन नहीं कर रहे हैं। सरकारी वाहन से निजी क्लिनिक पर जाते हैं और मरीजों का इलाज करते हैं।

सीएमएचओ के आदेश होंगे तो मरीज को भर्ती करेंगे
मरीज उनसे प्राइवेट तौर पर इसलिए भी इलाज करवा रहे हैं कि सीएमएचओ होने से जरूरत पड़ने पर हॉस्पिटल में ऑक्सीजन बेड आसानी से मिल जाएगा और सरकारी सुविधाएं भी। एक मरीज को चरक अस्पताल में भर्ती करवाने पहुंचे लोगों से कहा गया कि सीएमएचओ के आदेश होंगे तो मरीज को भर्ती किया जाएगा।

लोग सीएमएचओ कार्यालय पहुुुंचे तो पता चला कि वे अपने क्लिनिक पर गए हैं। लोग क्लिनिक पहुंचे तो यहां दोपहर 1.50 बजे डॉ. खंडेलवाल मरीजों का इलाज करते पाए गए। तराना के कांग्रेस विधायक महेश परमार ने डॉ. खंडेलवाल को पद से हटाने की मांग की है।

ड्यूटी के बाद क्लिनिक पर इलाज करता हूं
मैं पिछले एक साल से भी ज्यादा समय से जिले की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने में लगा हुआ हूं। सारी व्यवस्था पर लगातार नजर है। कहीं भी कोई समस्या के बारे में पता चलता है, उसका निराकरण करवाता हूं। क्लिनिक पर मरीजों का इलाज ड्यूटी के बाद ही करता हूं। लगाए जा रहे आरोप झूठे हैं।-डॉ. महावीर खंडेलवाल, सीएमएचओ

खबरें और भी हैं...