• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Continuously Increasing Number Of Dengue Patients In The District, So Far 53 Patients Are Dengue Positive, More Than Half Have Been Cured, Not A Single Death

उज्जैन में कोरोना के बाद अब डेंगू:जिले में डेंगू मरीजों की लगातार बढ़ रही संख्या, अब तक 53 पॉजिटिव, आधे से ज्यादा ठीक हुए, चिकनगुनिया का एक भी केस नहीं

उज्जैनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना के बाद उज्जैन में डेंगू, मलेरिया और वायरल बुखार तेजी से फैल रहे हैं। मच्छरों से होने वाली इन बीमारियों के नियंत्रण के लिए अभी तक स्वास्थ्य अमला मैदान में नहीं उतरा है। शहर में अभी तक 53 मरीजों को डेंगू की पुष्टि की बात स्वास्थ्य विभाग कर रहा है, लेकिन इसमें से अधिकांश मरीज ठीक हो चुके हैं। मंगलवार को 5 मरीजों की रिपोर्ट डेंगू पॉजिटिव आई है।

सीएमएचओ डॉ. संजय शर्मा ने कहा अभी तक डेंगू से एक भी मौत नहीं हुई है। केवल मरीजों के प्लेटलेट कम हो रहे हैं, जिन्हें समय पर ब्लड उपलब्ध कराया जा रहा है। हालांकि निजी अस्पतालों में सौ से ज्यादा मरीज भर्ती हैं, लेकिन इनकी रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को नहीं की गई है। इसलिए स्वास्थ्य विभाग इसे अधिकृत नहीं मान रहा है।

अब ये करेंगे
जिला मलेरिया अधिकारी की निगरानी में तीन टीमें गठित कर डेंगू-मलेरिया के मच्छरों पर नियंत्रण करेंगे। इस दौरान फॉगिंग की जाएगी और जगह-जगह से लार्वा के सैंपल लिए जाएंगे। जिस इलाके में भी डेंगू-मलेरिया का केस डिटेक्ट होगा वहां लार्वा स्प्रे, स्पेस स्प्रे व फॉगिंग के साथ जल जमाव हटाने के लिए सर्वे किया जाएगा।

घर-घर जाकर मरीजों की जानकारी लेंगे, जागरूक करेंगे
कलेक्टर आशीष सिंह ने कहा अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ रही है, जिसकी रोकथाम हेतु विशेष अभियान चलाएंगे। उज्जैन में हम इसे दो भागों में बांट रहे हैं। एक दल नगर निगम क्षेत्र में जहां भी जल भराव की स्थिति होगी वहां टीम द्वारा सफाई अभियान चला कर स्प्रे छिड़काव किया जाएगा दूसरा दल आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का होगा जो डोर टू डोर जाकर सर्वे करेगा और जल जमाव की रिपोर्ट देने के साथ लोगों को जागरूक भी करेगा।

चिकनगुनिया : उज्जैन में नहीं

उज्जैन में चिकनगुनिया का एक भी केस सामने नहीं आया है। सीएमएचओ डॉ. शर्मा ने कहा हम मच्छरों से होने वाली बीमारी पर काबू पाने की कोशिश में लगे हैं। इससे उम्मीद है कि चिकनगुनिया भी नहीं होगा।

डेंगू-मलेरिया से बचना है तो ये अभी से कर लें

  1. सात दिन से ज्यादा जल जमाव न हो। घर में या छत पर या घर के आसपास कहीं भी जल जमाव की स्थिति दिखे तो वहां का पानी खाली करें या स्वाथ्य विभाग को लार्वा स्प्रे के लिए सूचना दें।
  2. रात को सोते समय मच्छरदानी का उपयोग जरूर करें।
  3. जहां तक हो सके हाथ-पैर को ढंक कर रखें या इन्हें ढंके हुए कपड़े ही पहनें।
  4. मॉस्क्यूटो रिपेलेंट या हाथ-पैरों व चेहरे पर मच्छरों को दूर भगाने वाले क्रीम लगाएं
  5. नवजात बच्चों और बुजुर्गों का विशेष तौर पर ध्यान रखें।
खबरें और भी हैं...