पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विक्रम विवि:फार्मूले का बहाना, विद्यार्थियों को रिजल्ट घोषित के बाद भी नहीं मिली मार्कशीट

उज्जैन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विक्रम विश्वविद्यालय (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
विक्रम विश्वविद्यालय (फाइल फोटो)
  • विवि ने जिस कंपनी को दायित्व सौंपा, उसने अब तक तैयार ही नहीं की

विक्रम विवि के रिजल्ट घोषित होने के दो महीने बाद भी विद्यार्थियों की मार्कशीट परीक्षा विभाग में नहीं पहुंची। विश्वविद्यालय की वार्षिक पद्धति की स्नातक व स्नातकोत्तर की परीक्षाएं 5 मार्च से शुरू हुई थी। 23 मार्च से लॉकडाउन लगने के बाद शासन के निर्देश पर खुली किताब पद्धति से शेष परीक्षाएं 5 सितंबर से शुरू हो सकीं। इनके परिणाम नवंबर के पहले सप्ताह तक घोषित हो गए। दो माह बाद स्नातक प्रथम वर्ष नियमित व स्वाध्यायी परीक्षार्थी की अंकसूची परीक्षा विभाग में पहुंची है। अन्य कक्षाओं के एक लाख से ज्यादा विद्यार्थी मार्कशीट के इंतजार में हैं।

विश्वविद्यालय की वार्षिक पद्धति की स्नातक व स्नातकोत्तर की नियमित व स्वाध्यायी परीक्षार्थियों की परीक्षा 5 मार्च से शुरू हुई थी। इसमें विक्रम परिक्षेत्र के डेढ़ लाख विद्यार्थी शामिल हुए थे। उस दौरान कुछ परीक्षाएं संचालित हो गई थी। लॉकडाउन की घोषणा के कारण परीक्षाएं स्थगित कर दी गई। जो परीक्षाएं हो चुकी थी, उनकी उत्तरपुस्तिका जांचने का काम पहले ही पूरा हो गया है। इसके बाद शासन के निर्देश पर 5 सितंबर से स्नातक अंतिम वर्ष और स्नातकोत्तर चौथे सेमेस्टर की परीक्षाएं खुली किताब पद्धति से आयोजित हुई थी। स्नातक प्रथम, द्वितीय वर्ष और स्नातकोत्तर प्रथम और द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा असाइनमेंट के आधार पर हुई थी।

इनके परिणाम घोषित करने के लिए शासन ने 31 अक्टूबर अंतिम तिथि घोषित की थी। बावजूद विविविश्वविद्यालय के परिणाम नवंबर के पहले सप्ताह तक घोषित किए गए। परिणाम आने के दो महीने बाद भी विवि के जिम्मेदार परिणाम बनाने वाली कंपनी से अंकसूची नहीं ले सके। परीक्षा विभाग में हाल ही में स्नातक प्रथम वर्ष के नियमित व स्वाध्यायी परीक्षार्थियों की अंकसूची परीक्षा विभाग में पहुंचाई हैं। प्रथम वर्ष के परीक्षार्थियों की संख्या 40 हजार है। ऐसे में अब अन्य कक्षाओं के शेष रहे एक लाख से ज्यादा परीक्षार्थी अंकसूची के लिए इंतजार में हैं।

कॉलेज में प्रवेश लेने के लिए मार्कशीट जरूरी
परिणाम घोषित होने के बाद विद्यार्थियों ने अगली कक्षाओं में प्रवेश ले लिया। दो महीने के इंतजार के बाद संबंधित कॉलेज की ओर से विद्यार्थियों से मूल अंकसूची मांगी जा रही है। विश्वविद्यालय के अफसरों ने परीक्षार्थियों की परेशानी के बाद भी संबंधित कंपनी से अंकसूची मंगवाने के लिए पहल नहीं की है।

15 फरवरी तक सभी मिल जाएगी मार्कशीट
ओपन बुक पद्धति के कारण एजेंसी को रिजल्ट और मार्कशीट बनाने में देरी हो रही है। संबंधित को निर्देश दिए हैं कि हर हाल में 15 फरवरी से पहले सभी मार्कशीट तैयार कर लें। हमारा प्रयास है कि इस अवधि में सभी काे मार्कशीट प्रदान की दी जाए।
प्रो. अखिलेश पांडे्य, कुलपति विक्रम विश्वविद्यालय

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें