धरना प्रदर्शन:मंडी गेट पर किसानों ने किया चक्काजाम, 130 ट्रॉली की नीलामी रविवार को करने पर माने

उज्जैन9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • व्यापारियों के खिलाफ कार्रवाई पर अड़े थे किसान, व्यापारियों ने कहा- बगैर सुरक्षा नहीं खरीदेंगे उपज

चिमनगंज कृषि मंडी में उपज खरीदी को लेकर शनिवार को किसान और व्यापारी आमने-सामने हाे गए। किसान इस बात पर अड़े थे कि उनकी उपज शनिवार को ही नीलाम की जाए। साथ ही किसानों से अभद्रता करने वाले व्यापारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। व्यापारियों का कहना था कि जब तक व्यापारियों पर हमला करने वाले किसानों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती नीलामी में भाग नहीं लेंगे। दिनभर में चार बार चर्चा के बाद भी बात नहीं बनी तो शाम 5.30 बजे किसानों ने आगर रोड स्थित मंडी गेट पर चक्काजाम कर दिया, जो एक घंटे तक जारी रहा।

किसानों का कहना था कि व्यापारी जान-बूझकर उपज नहीं खरीद रहे हैं। शनिवार शाम को उपज से भरी ट्रॉली बगैर नीलामी के रह गई तो उनका नंबर सोमवार को ही आएगा। ऐसे में किसानों को दो रात मंडी में ही गुजारना पड़ेगी। उन्हें समझाइश देने के लिए एडीएम नरेंद्र सूर्यवंशी, एएसपी अमरेंद्रसिंह, सीएसपी पल्लवी शुक्ला मंडी पहुंचे। उन्होंने किसानों को चक्काजाम खत्म कर चर्चा के लिए मना लिया। इसके बाद मंडी कार्यालय में प्रशासनिक अफसरों ने किसानों, व्यापारियों के बीच चर्चा करवाई। आखिर तय हुआ कि किसानों की शनिवार को बगैर नीलामी शेष रही 130 ट्रॉली की नीलामी रविवार सुबह 11 बजे से की जाएगी।
किसान बोले- नीलामी में मनमानी करते व्यापारी
किसानों का गुस्सा इसकाे लेकर था कि नीलामी के दौरान व्यापारी उनकी उपज को औने-पौने दाम पर खरीद लेते हैं। जब किसान विरोध करते हैं तो उनके खिलाफ एकजुट हो जाते हैं। हरनियाखेड़ी के राहुल शर्मा ने बताया शुक्रवार को उनकी उपज पहले 1850 रुपए में नीलाम की लेकिन बाद में उसी के दाम 1750 रुपए क्विंटल कर दिए। इसका विरोध किया तो व्यापारियों ने हमला कर दिया। रातड़िया के पुनीत सिंह ने बताया व्यापारी का रुख किसान विरोधी रहता है।
व्यापारियों ने कहा- सौदा रद्द करवा सकते हैं
व्यापारी इस बात से सहमत नहीं हैं कि उन्होंने किसान पर हमला किया था। अनाज तिलहन व्यवसायी संघ अध्यक्ष मुकेश हरभजनका ने बताया मंडी एक्ट में प्रावधान है कि किसी भी किसान को व्यापारी की नीलामी पसंद न आए तो उसे रद्द कर उपज बेचने से मना कर सकता है। सभी उपज को एक दाम पर नहीं खरीदा जा सकता। उनके भाव क्वालिटी अनुसार तय किए जाते हैं। शुक्रवार और शनिवार को यही बात समझाने में लगे हैं। जब तक सुरक्षा नहीं मिलेगी नीलामी नहीं करेंगे।

शेष रही ट्रॉलियां रविवार को नीलाम करवाएंगे

मंडी सचिव आश्विन सिन्हा के अनुसार दोनों पक्षों से बातचीत के बाद समझाइश दे दी है। शनिवार को शेष रही 130 ट्राॅलियों को रविवार को नीलाम करवाने की मुनादी मंडी परिसर में की है। शनिवार रात और रविवार दोपहर के लिए किसानों के भोजन की व्यवस्था मंडी प्रशासन की ओर से करवाई है।

खबरें और भी हैं...