पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • First Time All Pass, Even Those Who Do Not Give Unit Test Fail, If They Are Dissatisfied With The Result, They Can Give The Exam.

10वीं का रिजल्ट:पहली बार सभी पास, यूनिट टेस्ट न देने वाला भी फेल नहीं, यदि रिजल्ट से असंतुष्ट हैं तो परीक्षा दे सकते हैं

उज्जैन20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इस बार माध्यमिक शिक्षा मंडल ने मेरिट सूची ही जारी नहीं की। - Dainik Bhaskar
इस बार माध्यमिक शिक्षा मंडल ने मेरिट सूची ही जारी नहीं की।
  • 202 सरकारी व 342 प्राइवेट स्कूल में 23599 ने कराया था पंजीयन

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने बुधवार को 10वीं का रिजल्ट जारी कर दिया। पहली बार 10वीं में एक भी स्टूडेंट फेल नहीं हुआ। यूनिट टेस्ट में शामिल नहीं हुए विद्यार्थी भी पास हो गए हैं। यही नहीं, इस बार पूरक भी नहीं दी गई है। पहली बार है जब 10वीं का रिजल्ट 100 प्रतिशत रहा। पिछले साल 10वीं बोर्ड की राज्य स्तरीय मेरिट सूची में टॉप-10 स्थानों पर 360 बच्चों ने जगह बनाई थी। इस बार माध्यमिक शिक्षा मंडल ने मेरिट सूची ही जारी नहीं की। पिछले साल जिले का रिजल्ट 68 फीसदी था।

डीईओ रमा नाहटे के अनुसार जिले में 20530 नियमित और 3069 प्राइवेट इस तरह कुल 23599 विद्यार्थियों ने पंजीयन करवाया था। कोरोना महामारी के कारण परीक्षाएं स्थगित रही। ऐसे में सरकार ने फार्मूला बनाकर रिजल्ट जारी किया है। जिले में 202 सरकारी और 342 प्राइवेट स्कूल हैं। राहत की बात यह कि जो विद्यार्थी इस रिजल्ट से संतुष्ट नहीं हैं, वे परीक्षा दे सकते हैं।

इस तरह बनाया रिजल्ट
नई प्रणाली के तहत 10वीं कक्षा के नियमित स्टूडेंट्स के लिए अर्धवार्षिक और प्री-बोर्ड व यूनिट टेस्ट और आंतरिक मूल्यांकन के अंक के आधार पर रिजल्ट तैयार किया गया है। इन परीक्षाओं में उपस्थित ना रहने वाले स्टूडेंट्स को 33 प्रतिशत अंक देकर पास किया गया। वहीं, प्राइवेट स्टूडेंट्स को भी 33 प्रतिशत अंक देकर पास किया गया।

परीक्षा का विकल्प भी खुला, 1 अगस्त से पंजीयन, 1 सितंबर से परीक्षा
बोर्ड ने नई प्रणाली के रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों को परीक्षा का विकल्प भी दिया है। यह विशेष परीक्षा 1 से 25 सितंबर के बीच आयोजित की जाएगी। इसके बाद इसमें प्राप्त अंकों के अनुसार उनकी मार्कशीट जारी की जाएगी। इसके लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल ने आदेश जारी किए हैं। यानी जिन छात्रों को सरकार के बोर्ड परीक्षा में अंक देने के मूल्यांकन फॉर्मूले पर भरोसा नहीं है, वे परीक्षा की तैयारी शुरू कर सकते हैं। इसके लिए छात्रों को 1 से 10 अगस्त तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा।

खबरें और भी हैं...