मौसम का हाल:दिन में मई-जून जैसी गर्मी, रात में आ गई ठंड, मावठा गिरने की भी उम्मीद

उज्जैन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौसम विभाग ने शनिवार को मानसून की औपचारिक विदाई की घोषणा कर दी है। - Dainik Bhaskar
मौसम विभाग ने शनिवार को मानसून की औपचारिक विदाई की घोषणा कर दी है।
  • मानसून की विदाई के साथ सूरज के तीखे तेवर, पारा 36 डिग्री पहुंचा

मानसून की विदाई के साथ सूरज के तेवर तीखे हो गए हैं। इस सीजन में अक्टूबर में दिन का पारा 36 डिग्री तक पहुंच गया। हालांकि इसके साथ रात में हल्की ठंड की शुरुआत भी हो गई है। इसके साथ तापमान 21.2 पर आ गया।

मौसम विभाग के राडार प्रभारी के अनुसार इसकी तीन वजह हैं। पहली नमी में लगातार कमी आ रही है। दूसरी हवा का रुख पश्चिमी हो गया है। इसके अलावा सूरज के बीच से बादल हटने से किरणें सीधे जमीन पर पहुंच रही हैं। ऐसे में दिन का तापमान औसत से डेढ़ डिग्री ज्यादा दर्ज किया जा रहा है। शासकीय जीवाजी वेधशाला के अनुसार गुरुवार को अधिकतम तापमान 34 और न्यूनतम 21.2 डिग्री दर्ज किया गया।

मई में 1 दिन, जून में 5 दिन 360 रहा तापमान

अक्टूबर में मई, जून महीने जैसी तपन महसूस हो रही है। अब उम्मीद की जा रही है कि इस बार ठंड जल्दी शुरू हो सकती है। शासकीय जीवाजी वेधशाला के अनुसार मई में एक दिन 20 तारीख और जून में पांच दिन 4, 7, 27, 28, 29 तारीख को तापमान 36 डिग्री दर्ज किया गया था। इसी तरह अक्टूबर-2020 में 7, 13 और 17 तारीख को तापमान 36 या उससे ज्यादा दर्ज किया गया था।

19 और 20 अक्टूबर को फिर मावठे के आसार

मौसम विभाग ने शनिवार को मानसून की औपचारिक विदाई की घोषणा कर दी है। विभाग के राडार प्रभारी वेदप्रकाश के अनुसार भिंड, दतिया, शिवपुरी, अशोकनगर, गुना, मंदसौर, उज्जैन, रतलाम, झाबुआ, धार, इंदौर, आगर, देवास, शाजापुर, होशंगाबाद, नरसिंहपुर, जबलपुर, मंडला, डिंडोरी, सागर, रीवा, भोपाल और शहडोल संभागों के जिलों से 9 अक्टूबर को मानसून विदा हो गया। इसकी समान्य तारीख 5 अक्टूबर तय की थी, जो 4 दिन देरी से विदा हुआ। राडार प्रभारी का कहना है कि अरब सागर में सिस्टम और बंगाल की खाड़ी में सिस्टम बन रहा है। इसके प्रभाव से 19 और 20 अक्टूबर को फिर से मावठे के आसार हैं।

खबरें और भी हैं...