पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोविड-19:वेतन-इनकम रुकी तो 4 माह में उज्जैन के 3400 ने पीएफ से निकाले 7.29 करोड़

उज्जैन9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भविष्य निधि ने वर्तमान बचाया; कोरोना काल में पीएफ ही बना सबसे बड़ा सहारा

कोरोना काल आैर लॉकडाउन में भविष्य के लिए सहेजी जाने वाली भविष्य निधि सैकड़ों लोगों को आर्थिक संकट से उबारने में मददगार साबित हुई है। केंद्र सरकार की कोविड-19 स्कीम के अंतर्गत कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) खाते से क्षेत्रीय भविष्य निधि कार्यालय उज्जैन के क्षेत्र में आने वाले 3400 से अधिक कर्मचारियों ने 7.29 करोड़ रुपए से अधिक की राशि निकाली है। कोरोना काल में केंद्र सरकार की ओर कोविड-19 स्कीम की शुरुआत की गई थी। क्षेत्रीय भविष्य निधि उज्जैन कार्यालय के अंतर्गत लॉकडाउन लगने के बाद मार्च में तो कोई आवेदन इस स्कीम के अंतर्गत नहीं आया लेकिन अप्रैल से ही कर्मचारियों ने इस स्कीम में आवेदन करना शुरू कर दिए। अप्रैल से लेकर 22 जुलाई तक की स्थिति में कुल 3447 कर्मचारियों ने कोविड-19 स्कीम के अंतर्गत 7 करोड़ रुपए 29 लाख 15 हजार 237 रुपए की राशि निकाली। वहीं नॉन कोविड (बीमारी, शादी आदि अन्य जरूरत के आवेदन) के अंतर्गत अप्रैल से 22 जुलाई तक कुल 4966 कर्मचारियों ने आवेदन कर 31 करोड़ 28 लाख 88 हजार 848 रुपए की राशि निकाली गई। कोविड-19 के अंतर्गत सबसे ज्यादा आवेदन जून के महीने में आए। जून में कोविड-19 में 1158 कर्मचारियों ने आवेदन कर 2 करोड़ 37 लाख 49 हजार 709 रुपए की राशि निकाली। अच्छी बात यह रही कि कोविड-19 के अंतर्गत तीन दिन के भीतर लोगों को भविष्य निधि की राशि उनके खाते में प्राप्त हो गई। क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त पवन कुमार बंसल ने बताया कोविड-19 में आवेदन करने वाले शत-प्रतिशत आवेदनों का निपटान कर उनके खातों में समयसीमा से पहले राशि पहुंचाई गई।

उज्जैन के कोरोना मरीज की इंदौर में मौत, 21 नए पॉजिटिव, 28 डिस्चार्ज

भैरवगढ़ जेल के दो कैदी, लाइन के दो पुलिसकर्मी सहित 17 उज्जैन के और चार नागदा, बड़नगर व घट्टिया के

भास्कर संवाददाता| उज्जैन उज्जैन जिले के फिर एक कोरोना मरीज की मौत हो गई। वह इंदौर के अरविंदो अस्पताल में भर्ती था। लगातार हालत बिगड़ी और शनिवार को अधेड़ व्यक्ति की मौत हो गई। वह नागदा के बादीपुरा का रहने वाला था। इधर, शनिवार देर रात आए हेल्थ बुलेटिन में 1073 सैंपलों की जांच में 21 कोरोना पाॅजिटिव निकले हैं। इनमें से चार वार्ड क्रमांक 8 अंकपात क्षेत्र की श्रीकृष्ण कॉलोनी के हैं। जिनमें एक पांच साल की बच्ची भी है। बताया जाता है कि इनमें से तीन एक ही परिवार के हैं। इसके अलावा भैरवगढ़ जेल के दो कैदी और लाइन के दो पुलिसकर्मी के साथ ही राजीव गांधी नगर, हरसिध्दि मार्ग, सती गेट, जानकी नगर, ऋषि नगर व छोटा तेलीवाड़ा सहित 17 रोगी उज्जैन के शामिल हैं। बाकी चार पाॅजिटिवों बड़नगर के दो, नागदा व घट्टिया के क्रमश: एक-एक रोगी हैं। इस दिन 28 रोगियों को ठीक होने पर डिस्चार्ज भी किया गया। इस तरह अब 162 रोगी भर्ती हैं, जिनमें से 109 बगैर लक्षण वाले और 53 लक्षणों वाले शामिल हैं। नागदा में तीसरी मौत : कोरोना से नागदा में शनिवार को तीसरी मौत हुई। बादीपुरा के रहने वाले 56 वर्षीय व्यक्ति का इंदौर के अरविंदो अस्पताल में इलाज चल रहा था। जहां उनकी मौत हो गई। हालांकि इंदौर में मौत होने के कारण प्रशासन ने इसे उज्जैन के हैल्थ बुलेटिन में शामिल नहीं किया।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें