• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • In A Year And A Half, Seized 15 Villages In 15 Villages, 15 Boats, 3 Big Ships, 7 JCBs And 4 Tractors, Yet Mining Continues

मामला गंभीर...:डेढ़ साल में 12 गांवों में 15 बार दबिश, 15 नाव, 3 बड़े जहाज, 7 जेसीबी और 4 ट्रैक्टर जब्त फिर भी खनन जारी

उज्जैनएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिम्मेदारों का जवाब- कार्रवाई करते हैं लेकिन ये नाकाफी क्योंकि जब माफिया सैटअप तैयार कर रहे होते हैं तभी ठोस कार्रवाई की जरूरत

डेढ़ साल में खनिज विभाग ने 12 गांवों में 15 दबिश देकर अवैध खनन व परिवहन करने वालों पर कार्रवाई की। इस दौरान गंभीर से 15 नाव, 3 बड़े जहाज, 7 जेसीबी व 4 ट्रेक्टर सहित कई संसाधन जब्त किए। बावजूद अवैध खनन नहीं रूक रहा है, अाखिर क्यो? जिम्मेदार अधिकारी का जवाब है हम लगातार कार्रवाई करते आ रहे है लेकिन ये नाकाफी है। जरूरत इस बात की है कि जब माफिया इस अवैध कारोबार के लिए अपना सैटअप तैयार कर रहे होते हैं तभी उन्हें कार्रवाई के दायरे में लेना जरूरी है ताकि वे इस अवैध कारोबार में आगे बढ़ न पाए। कुछ दिन पहले खनिज विभाग के अमले ने ग्राम सेमदिया-छानखेड़ी व नयाखेड़ा में दबिश देकर गंभीर से एक बड़ा जहाज और तीन नाव जब्त  कर भैरवगढ़ थाने की सुपुर्दगी में पहुंचाई। दबिश के दौरान अधिकारियों का तर्क था कि उन्हें देख खनन करने वाले भाग निकले। जिला खनिज अधिकारी रश्मि पांडे ने बताया अवैध खनन व परिवहन करने वालों पर कई  बार कार्रवाई की हैं। हमारी कार्रवाई जारी है। 

क्या ठोस कार्रवाई के लिए अतिरिक्त बल नहीं लिया जा सकता था?

माना की खनिज विभाग का अमला कम है। तो क्या इस तरह की दबिश के दौरान राजस्व, पुलिस व होमगार्ड आदि विभाग से अतिरिक्त अमला नहीं लिया जा सकता है। ताकि ठोस कार्रवाई हो सके। वे लोग भी पकड़े जा सके जो गंभीर नदी को छलनी कर रहे हैं। उनकी नाव, मोटर वोट व जहाज को जब्त कर अज्ञात लोगों के खिलाफ प्रकरण बनाने से कुछ नहीं होगा। वे दोबारा से ये संसाधन जुटाएंगे और अवैध खनन में लग जाएंगे। लिहाजा जरूरत हैं ठोस कार्रवाई के लिए ठोस रणनीति की। उन लोगों को धरदबोचने की जो की इन अवैध कारोबार के कर्ताधर्ता हैं।

खनिज विभाग द्वारा डेढ़ साल में की गई कार्रवाई 

7 जनवरी 19 : ग्राम रायपुरा से एक नाव, एक जेसीबी, एक डंपर व दो ट्रैक्टर जब्त किए। अर्थदंड वसूलकर मामलों को निराकृत किया गया। 10 जनवरी 19 : ग्राम नलवा से नाव, पन्नडुबी, इंजन अटैच बोट, 14 डंपर रेत, एक डूबी हुई नाव, एक मोटर बाइक व एक जेसीबी। अर्थदंड लगाकर मामला निराकृत किया गया।  2 मार्च 19 : ग्राम भाटीसुड़ा से एक मोटर वोट इंजन अटैच जब्त। राजसात की गई। 5 मार्च 19 : ग्राम छानखेड़ी से पांच नाव व जेसीबी जब्त। नावें राजसात।  5 मार्च 19 : ग्राम नायन से एक नाव, एक जेसीबी व एक मोटर बाइक। नाव राजसात।  8 मार्च 19 : चार अलग-अलग प्रकरणों में ग्राम बड़वई से दो जेसीबी, एक ट्रैक्टर, इंजन अटैच नाव व मोटर वोट तथा ग्राम धुलेटिया से एक जेसीबी व एक ट्रैक्टर जब्त किया गया। इनमें से बड़वई के दो मामलों में एक लाख 38 हजार का अर्थदंड लगाकर प्रकरणों का निराकृत किया गया। वहीं धुलेटिया के प्रकरण को भी 54 हजार का अर्थदंड जमा करवा मामले काे निराकृत किया गया। 23 मार्च 19 : ग्राम किलोडिया नागदा से एक जेसीबी जब्त की गई। 90 का अर्थदंड वसूल मामले को निराकृत किया गया। 6 नवंबर 19 : ग्राम अंबोदिया से एक बड़ा जहाज व एक नाव, दोनों इंजन अटैच के जब्त किए गए। ये थाने की सुपुर्दगी में हैं।  26 नवंबर 19 : ग्राम खड़ोतिया से एक इंजन अटैच नाव जब्त की गई। ये थाने की सुपुर्दगी में हैं।   3 जुलाई 20 : ग्राम सेमदिया-छानखेड़ी व नयाखेड़ा से एक बड़ा जहाज, तीन नाव जब्त कर थाने की सुपुर्दगी में दी गई। 

खबरें और भी हैं...