• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • In Ujjain On November 24, The Target Of More Than 2.5 Lakhs For The Second Dose, If It Is Successful Then 100% Vaccination Will Be Done In December.

कोविड टीकाकरण एक और अभियान:उज्जैन में 24 नवंबर को दूसरे डोज के लिए ढाई लाख से ज्यादा का टारगेट, ये सफल रहा तो दिसंबर में शत प्रतिशत वैक्सीनेटेड होगा

उज्जैन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर को कोरोना से मुक्त करने के लिए बुधवार को दूसरे डोज के लिए एक और महाअभियान छेड़ा जाएगा। इसमें प्रशासन ने अब तक का सबसे बड़ा टारगेट रखा है। एक ही दिन में जिले में 2.53 लाख लोगों को वैक्सीन लगाने की तैयारी की जा रही है। यदि ये टारगेट पूरा हो जाता है तो दिसंबर में उज्जैन जिला शत प्रतिशत वैक्सीनेटेड हो जाएगा।

कोविड टीकाकरण के दूसरे डोज के लिये 24 नवम्बर को महाअभियान जिले में चलाया जायेगा। अभियान के दौरान दो लाख 53 हजार 364 लोगों को सेकंड डोज का टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 18 नवम्बर के टीकाकरण महाअभियान के दौरान फर्स्ट डोज 3525 एवं सेकंड डोज 76502 कुल 80027 लोगों को टीके लगाये गये थे। 24 नवम्बर को इसी तरह जिले में महाअभियान चलाया जायेगा।

कलेक्टर आशीष सिंह ने इस संबंध में अधिकारियों को निर्देश दिये हैं। उन्होंने बताया कि उज्जैन शहरी क्षेत्र में 56005, ताजपुर में 7626, घट्टिया में 17349, खाचरौद में 30549, नागदा में 33890, बड़नगर में 36619, महिदपुर में 34327 एवं तराना ब्लॉक में 36999 व्यक्तियों को कोविड का सेकंड डोज लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

हर स्तर पर आदेश जारी किए कलेक्टर ने, वेतन रोकने के भी आदेश -
- कलेक्टर आशीष सिंह के आदेश पर जिला कोषालय अधिकारी दिनेश कुमार चौरसिया ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि कोरोना वेक्सीनेशन के दोनों डोज लगने एवं प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करने के बाद ही शासकीय कर्मचारियों को नवम्बर माह का वेतन दिया जाये। अधिकारियों को स्वयं का लिखा प्रमाण पत्र भी जारी करना होगा कि उन्होंने किसी भी कर्मचारी को बिना सेकंड डाेज लगाए वेतन नहीं दिया है।

- महिला बाल विकास एवं नगर निगम संयुक्त रूप से आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं एवं झोन अधिकारियों की बैठक लेकर सेकंड डोज से छूटे हुए लोगों को टीकाकरण कराएंगे।

- उद्योग, बिल्डर, व्यापारी, किराना, मेडिकल स्टोर्स आदि की बैठक लेकर कार्यरत कर्मचारियों को टीकाकरण अनिवार्य रूप से कराने को कहें।

- आशा, सुपरवाइजर की भी बैठक लेकर उन्हें सेकंड डोज से छूटे हुए व्यक्तियों का अनिवार्य रूप से टीकाकरण करवाने का कहें।