• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Kovid Self Kit Banned In Ujjain During Corona Transition Period, Now Patients Will Not Be Able To Do Kovid Test

जांच के नए नियम:कोरोना संक्रमण काल में उज्जैन में कोविड सेल्फ किट प्रतिबंधित, अब मरीज कोविड टेस्ट नहीं कर सकेंगे

उज्जैन6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 200 से ज्यादा लोग घर पर कर चुके अपना कोविड टेस्ट

कोविड की तीसरी लहर के संक्रमण के बीच में उज्जैन में गुरुवार को कोविड सेल्फ किट पर प्रतिबंध लगा दिया है। अब यह किट आम लोग मेडिकल स्टोर्स से नहीं खरीद सकेंगे। लोग बाजार से किट खरीद कर खुद टेस्ट कर पता कर रहे थे कि उन्हें कोरोना हुआ है या नहीं। अब तक करीब 200 से ज्यादा लोग किट से अपनी कोविड जांच कर चुके हैं।

कोविड सेल्फ किट पर लगाई गई रोक का विरोध भी हो रहा है। लोगों का कहना है कि संक्रमण काल में किट पर रोक लगाना ठीक नहीं है। उज्जैन जिले में तीसरी लहर में 700 से ज्यादा मरीज पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। बढ़ते संक्रमण की बीच लोग अपनी जांच खुद कोविड सेल्फ किट के माध्यम से कर रहे थे ताकि संक्रमण का पता चल सके। इस बीच ड्रग विभाग ने किट के क्रय-विक्रय पर रोक लगा दी है।

ड्रग इंस्पेक्टर धर्मसिंह कुशवाह का कहना है कि लोग अपना कोविड टेस्ट करने के बाद स्वास्थ्य विभाग को अवगत नहीं करवाते हैं कि उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है या निगेटिव। रिपोर्ट छिपाए जाने की जानकारी सामने आने के बाद मेडिकल स्टोर्स से किट बेचे जाने पर रोक लगाई है। अब केवल होल सेलर हॉस्पिटल उपयोग के लिए ही किट उपलब्ध करवा सकेंगे, इसके अलावा आम मरीजों को यह किट उपलब्ध नहीं करवाई जाएगी।

मेडिकल स्टोर्स संचालक और होलसेलर को आदेश

मेडिकल स्टोर्स संचालक और होलसेलर को आदेश दिए हैं कि आगामी आदेश तक कोरोना सेल्फ किट पर प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने बताया कि तीसरी लहर में किट के विक्रय के रिकार्ड के तहत अब तक 200 से ज्यादा लोग अपना कोविड टेस्ट खुद कर चुके हैं।

कोरोना है या नहीं- ऐसे कर सकते हैं खुद अपनी जांच

जांच किट में जांच करने का तरीका बहुत आसान है। इसमें 20 मिनट में कोरोना की जांच हो जाती है। दो रेड लाइन आने पर रिपोर्ट पॉजिटिव और एक रेड लाइन आने पर रिपोर्ट निगेटिव मानी जाती है। उसके बाद मरीज लक्षणों के आधार पर अपने डॉक्टर्स से परामर्श लेकर इलाज करवा सकते हैं। कोविड जांच किट की एमआरपी 250 रुपए है।

खबरें और भी हैं...