अपराध / इंदौर व भोपाल पुलिस की मदद से निगरानी की, रिकवरी से ज्यादा पैसा जेब का खर्च हुआ

X

  • 2.90 लाख की लूट में बदमाशों को पुलिस ने लाॅकडाउन के चलते छोड़ा था

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 08:18 AM IST

उज्जैन. लॉकडाउन के दौरान पेट्रोल पंप के मैनेजर से 2.90 लाख रुपए की लूट करने वाले बदमाशों को पुलिस ने 15 दिन बाद ही पकड़ लिया था लेकिन लॉकडाउन में रिकवरी के चलते दोनों को छोड़ दिया था। बदमाश यही समझते रहे कि पुलिस उनसे वारदात कबूल नहीं करवा सकी, जबकि भैरवगढ़ पुलिस ने दोनों को छोड़ने के बाद इंदौर चंद्रावतीगंज व भोपाल पुलिस की मदद से दोनों बदमाशों पर 10 दिन तक नजर रखी। वे पूरी तरह निश्चित हो गए। इधर पुलिस ने लॉकडाउन खत्म होने के बाद दोनों बदमाशों की पूरी हिस्ट्री पता की फिर दोबारा गिरफ्तार किया।
कोलार रोड भोपाल निवासी रानू पारदी व इंदौर बेटमा का जयराम पारदी ने 7 मई को भैरवगढ़ थाने से 45 किलोमीटर दूर ग्राम अजराना में पेट्रोल पंप मैनेजर भगवती प्रसाद की आंख में मिर्च डालकर लूटने के बाद दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ डेरे व जंगल में शराब व नाॅनवेज पार्टी मनाते थे। उसमें हर बार खूब नोट भी उड़ाते गए। लूटे गए दो लाख 90 हजार रुपए में से इसीलिए 2.45 लाख रुपए खर्च हो गए थे। उनके पास बचे 45 हजार रुपए जब्त करने के लिए भी पुलिस को काफी मशक्कत करना पड़ी। घर व डेरे के आसपास अलग-अलग जगह पैसे छिपाकर रखे थे, जिन्हें जब्त करने पर पुलिस को रिकवरी से अधिक पैसा बेटमा व भोपाल आने-जाने में खर्च हो गया। सीएसपी एआर नैगी ने बताया बदमाशों से नई कोई घटना पूछताछ में सामने नहीं आई। भैरवगढ़ थाना एसआई महेंद्र मकाश्रे ने बताया दोनों आरोपियों को सोमवार को कोर्ट में पेश करने पर सेंट्रल जेल भैरवगढ़ भेज दिया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना