पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आईजी संतोषसिंह ने संभाला पदभार:अपराध पर अंकुश लगाने में एक्सपर्ट हैं आईजी संतोष कुमार सिंह, बोले- अपराधी कितना भी रसूखदार हो तत्काल और प्रभावी कार्रवाई होगी

उज्जैन21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नवागत आईजी संतोषसिंह का आईजी योगेश देशमुख ने स्वागत किया। - Dainik Bhaskar
नवागत आईजी संतोषसिंह का आईजी योगेश देशमुख ने स्वागत किया।

तेजतर्रार आईपीएस संतोषकुमार सिंह ने उज्जैन में आईजी का पदभार संभाल लिया। उन्होंने पहले ही दिन अपने इरादे साफ कर दिये। कहा, अपराधी कितना भी रसूखदार क्यों न हो उसके खिलाफ तत्काल और प्रभावी कार्रवाई की जाएगी। वे यहां 2003 में सीएसपी के रूप में भी सेवाएं दे चुके हैं।

आईजी संतोषसिंह गुंडे बदमाशों पर नकेल कसने में एक्सपर्ट हैं। वे प्रदेश के पहले ऐसे आईपीएस हैं जो प्रदेश के चारों बड़े शहरों में एसपी व डीआईजी या आईजी रह चुके हैं। संतोषसिंह ने कई अपहर्ताओं के चंगुल से लोगों को बचाया है।

संतोष कुमार सिंह, नवागत आईजी, उज्जैन
संतोष कुमार सिंह, नवागत आईजी, उज्जैन

ग्वालियर, जबलपुर और इंदौर में एसपी रहते हुए उन्होंने कई गुंडों और गैंग को खत्म किया है। इंदौर में वे बाद में एसएसपी भी रहे। उन्हें एनकाउंटर स्पेशलिस्ट भी कहा जाता है। इंदौर और ग्वालियर जैसे शहरों में अपराधियों पर अंकुश लगाना आसान नहीं है। लेकिन संतोषकुमार सिंह ने इन शहरों के बढ़ते अपराधों को काफी हद तक कम किया है।

संतोषकुमार सिंह की वजह से ही ग्वालियर जैसे शहरों में महिलाएं अब देर रात तक धर से निकल सकती हैं। संतोषसिंह ने ग्वालियर में कई एनकाउंटर किए। दिल्ली, गुड़गांव, आगरा, इटावा की कई गैंग ग्वालियर में सक्रिय रहती थी और वहां अपराध करके भाग जाते थे। संतोषसिंह ने ऐसे कई अपराधियों का एनकाउंटर किया।

संतोषसिंह मप्र के चारों बड़े शहरों में एसपी व एसएसपी के पदों पर पदस्थ रहे हैं। बाद में वे भोपाल के डीआईजी और फिर चंबल रेंज के आईजी भी रहे। फिलहाल वे भोपाल में पुलिस मुख्यालय में पुलिस महानिरीक्षक (गुप्त वार्ता) से ट्रांसफर होकर उज्जैन के आईजी बने हैं।

फिजिकल फिटनेस का जबर्दस्त शौक
संतोषकुमार सिंह को फिजिकल फिटनेस, रनिंग और साइकिलिंग का जबर्दस्त शौक है। वे एक दिन में 35 से 40 किमी की दौड़ लगाते हैं। जबकि इससे ज्यादा वे साइकलिंग करते हैं। रात 11 बजे के बाद वे बंगले में ही घंटों रनिंग करते हैं।

एडीएम सूर्यवंशी निवाड़ी कलेक्टर बने, गौतमसिंह मंदसौर आए -
उज्जैन के एडीएम और महाकाल मंदिर के प्रशासक नरेंद्र सूर्यवंशी का तबादला हो गया है। वे अब निवाड़ी के कलेक्टर होंगे। वहीं उज्जैन संभाग के मंदसौर जिले के कलेक्टर मनोज पुष्प की जगह अब गौतमसिंह कलेक्टर होंगे। गौतमसिंह नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के अपर आयुक्त और मप्र मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के कार्यपालक संचालक हैं। पुष्प को अलीराजपुर का कलेक्टर बनाया गया है।

खबरें और भी हैं...