पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Not Collecting Garbage, Destroying It Or Making It Re usable Will Give You Points, Will Be Evaluated From October To December

स्वच्छ सर्वेक्षण:कचरा एकत्र नहीं रखना, उसे नष्टीकरण या फिर से उपयोग योग्य बनाने से मिलेंगे अंक, अक्टूबर से दिसंबर तक मूल्यांकन होगा

उज्जैन4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 6000 अंक तय किए हैं, सबसे ज्यादा 2400 अंक सर्विस लेवल प्रोग्रेस पर
  • तीन भाग में मूल्यांकन, पहले में 40 बाकी दो में 30-30 प्रतिशत अंक मिलेंगे

केंद्र सरकार ने स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 की शुरुआत कर दी है। नगर निगम नई गाइडलाइन के अनुसार काम में जुट गया है लेकिन इस बार उसके सामने कड़ी चुनौती होगी। सर्वेक्षण में कुछ बदलाव के साथ नयापन है। स्वच्छता की परीक्षा के लिए सर्वेक्षण हर बार की तरह 6000 अंक का ही होगा।

स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 की गाइडलाइन अप्रैल-2020 से लागू हो चुकी है। पिछले साल चार टर्न में बांटा गया था, लेकिन इस बार तीन टर्न हैं। पहला टर्न अप्रैल से जून का पूर्ण हो चुका है और दूसरा जुलाई से सितंबर वाला चल रहा है। तीसरा टर्न अक्टूबर से दिसंबर तक का रहेगा।

पिछली बार 1500 अंक जनता के हाथ में सिटीजन फीडबैक के थे उन्हें बढ़ाकर 1800 अंक कर दिया है हालांकि सर्विस लेवल प्रोग्रेस के सबसे ज्यादा 2400 अंक तय किए हैं। स्वच्छ सर्वेक्षण की नई गाइडलाइन के अनुसार काम शुुरू कर दिया है। कचरे को नष्टीकरण के अलावा उससे खाद बनाने का काम कर रहे हैं।

इस साल 6000 अंक

स्वच्छता सर्वेक्षण का पेपर इस साल भी 6000 अंक का ही होगा। पिछली बार चार भाग में 25-25 प्रतिशत अंक थे, इस साल तीन भाग में अंक बटेंगे। एक भाग 40 प्रतिशत का होगा जबकि दो भाग 30-30 प्रतिशत अंक के होंगे।

सर्विस लेवल प्रोग्रेस

इसके लिए सबसे ज्यादा 40 फीसदी यानी 2400 अंक मिलेंगे। इसके तहत ननि को घर-घर से गीला-सुखा कचरा अलग-अलग कलेक्शन करना, किस प्रकार से कचरा एकत्र किया जाता है और किस प्रकार उसका नष्टीकरण या उसे फिर से उपयोग लायक किस प्रकार बनाया जाता है। खास यह है कि इस बार निगम को कचरा एकत्र करके रखना नहीं है। उसे निरंतर प्रक्रिया के तहत नष्टीकरण या फिर से उपयोग योग्य बनाना व उपयोग करना है।

प्रेरक सम्मान-स्वच्छता कैटेगरी

सरकार ने इस बार नए आयाम में स्वच्छता की कैटेगरी निर्धारित की गई। जिसमें प्रेरक दौड़ सम्मान से सम्मानित किया जाएगा। इसे चार केटेगरी में विभाजित किया गया है। जो इस प्रकार है दौड़ (डीएयुयुआर) अर्थात दिव्य-प्लेटिनम, अनुपम-गोल्ड, उज्जवल-सिल्वर, उदित-ब्रांज व रोही-स्पिरिंग अवार्ड नाम दिए है। इसमें सबसे बेस्ट (प्लैटिनम) सम्मान होगा।

सिटीजन वाइस

इसके लिए 30 प्रतिशत अर्थात 1800 अंक मिलेंगे। जनता का फीडबैक लिया जाएगा। जनता निगम के कार्यों के आधार पर नंबर देंगी। निगम जनता को प्रेरित करने और अभिमत देने के लिए स्वच्छता एप व निगम अपने स्वयं के एप, फेसबुक, ट्वीटर, इंस्टाग्राम आदि सोशल मीडिया के प्लेटफार्म के माध्यम से भी जागरुक कर फीडबैक ले सकेंगी।

पूछेंगे-खतरनाक कचरे का क्या करती है निगम : इस बार निगम को खतरनाक श्रेणी के कचरे का निपटान करना जरूरी होगा। जो जनता के लिए खतरनाक है। सरकार इस बार पॉलीथिन-प्लास्टिक के उपयोग रोकने को लेकर किए काम नहीं जानेगी। बगीचा, दुकानदारों, होटल, गेस्ट हाउस, धर्मशाला, एजुकेशन इंस्टीट्यूट, सरकारी या प्राइवेट ऑफिस आदि से जुड़े लोगों से फीडबैक लिया जाएगा।

सर्टिफिकेशन-स्टार रेंटिंग : निगम को 30 प्रतिशत अर्थात 1800 अंक मिलेंगे। यह अंक कचरा मुक्त शहर के तहत स्टार रैंकिंग के रूप में 1100 अंक और अोडीएफ प्लस व ओडीएफ डबल प्लस के लिए 700 अंक के रूप में मिलेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें