महाकाल मंदिर के 35 कर्मचारियों को नोटिस:VIP व्यवस्था में कमी होने के चलते कार्रवाई, दो दिन में मांगा जवाब

उज्जैन19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महाकालेश्वर मंदिर में दर्शन की VIP व्यवस्था में कमी होने के चलते मंदिर प्रशासन ने करीब 35 लोगों को नोटिस दिया है। कर्मचारियों से दो दिन में जवाब मांगा है।

श्री महाकालेश्वर मंदिर में रोजाना आम श्रद्धालुओं के अलावा VIP श्रद्धालुओं का भी आगमन होता रहता है। VIP प्रोटोकॉल वाले श्रद्धालु के लिए दर्शन कराने को लेकर मंदिर समिति ने कर्मचारियों की टीम गठित की हुई है। इन कर्मचारियों को प्रोटोकॉल के अलग-अलग व्यवस्था दी है। श्री महाकालेश्वर मंदिर में 1 मई को मध्य प्रदेश लोकायुक्त के परिवार के सदस्य दर्शन के लिए मंदिर पहुंचे थे।

इस दौरान वस्त्र बदलने के लिए उनके परिवार को परेशान होना पड़ा। अव्यवस्था होने की शिकायत के बाद मंदिर प्रशासन ने प्रोटोकॉल प्रभारी, दर्शन व्यवस्था प्रभारी सहित प्रोटोकॉल से जुड़े करीब 35 कर्मचारियों को नोटिस जारी किया है।

शनिवार तक देना था जवाब

ये पहला मौका होगा अजब महाकाल मंदिर में एक साथ करीब तीन दर्जन कर्मचारियों को नोटिस दिया गया हो। शनिवार को सभी ने अपनी ओर से लिखित जवाब भी मंदिर प्रशासन को प्रस्तुत कर दिया है।

गौरतलब है कि इन दिनों श्री महाकालेश्वर मंदिर में विस्तारीकरण का कार्य चल रहा है जिसके लिए कुछ व्यवस्थाएं भी परिवर्तित हुई है। इन सबके बीच सामान्य श्रद्धालु के अलावा VIP ​​​​​​ प्रोटोकॉल के माध्यम से आने वाले श्रद्धालुओं को भी दर्शन कराने की जिम्मेदारी मंदिर के कर्मचारियों को रहती है।