• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Now Electricity Bill Will Be Generated As Soon As Meter Reading Is Taken, Starting From Two Zones; People Will Be Able To Deposit The Bill Amount In 10 Days

नई व्यवस्था की शुरुआत:अब मीटर रीडिंग लेते ही बिजली बिल जनरेट होगा, दो जोन से होगी शुरुआत; 10 दिन में लोग बिल की राशि जमा कर सकेंगे

उज्जैन15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लोगों को बिल की प्रति के आने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा - Dainik Bhaskar
लोगों को बिल की प्रति के आने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा
  • पेपर लैस वर्क को बढ़ावा देने के लिए नई व्यवस्था की शुरुआत मक्सी रोड व छत्री चौक जोन से की जा रही
  • शहर के करीब एक लाख 27 हजार उपभोक्ताओं के लिए यह सुविधा रहेगी

बिजली कंपनी के पूर्व शहर संभाग फ्रीगंज और पश्चिम शहर संभाग पुराने शहर में स्पॉट पर मीटर रीडिंग लेते ही बिजली बिल जनरेट हो जाएगा। यानी मौके से ही मीटर रीडर मोबाइल से रीडिंग लेकर उसे बिल सेक्शन के सॉफ्टवेयर पर डालेगा। इसमें ऑटोमेटिक बिल जनरेट हो जाएगा और सभी चार्जेस जुड़ जाएंगे। लोगों को मोबाइल पर एसएमएस व मेल से बिल भेजे जाएंगे। ऑनलाइन या जोन पर जाकर लोग मैसेज दिखाकर बिल की राशि जमा कर सकेंगे। बिल जमा होने का भी मैसेज आएगा।

पेपर लैस वर्क को बढ़ावा देने के लिए नई व्यवस्था की शुरुआत मक्सी रोड व छत्री चौक जोन से की जा रही है। इसके बाद बाकी 7 जोन पर भी यह सिस्टम लागू कर दिया जाएगा। शहर के करीब एक लाख 27 हजार उपभोक्ताओं के लिए यह सुविधा रहेगी। इसमें लोगों को बिल की प्रति के आने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। उपभोक्ताओं को बिल की राशि जमा करने के लिए पर्याप्त समय मिल सकेगा। बिल की ड्यू डेट 10 दिन की रहेगी। इसमें वे अपने बिल की राशि जमा कर सकेंगे। नई व्यवस्था में लोगों को एवरेज बिलिंग से मुक्ति मिल सकेगी। उन्हें वास्तविक खपत के बिल मिल सकेंगे। बिजली कंपनी के अधिकारियों ने बताया बिलिंग के सॉफ्टवेयर को अपडेट किया गया है। इसमें रीडिंग डालते ही ऑटोमेटिक बिल जनरेट हो जाएगा।

मुश्किल यह भी...नंबर दर्ज नहीं तो कैसे पहुंचेंगे बिल

जिन लोगों के पास में मोबाइल नहीं है या जिनके मोबाइल नंबर बिजली कंपनी के जोन पर दर्ज नहीं है, उन्हें नई व्यवस्था के तहत बिल जारी करने में मुश्किल होगी। ऐसे लोगों के लिए बिजली कंपनी की ओर जोन पर बिल की प्रति निकालकर दिए जाने की व्यवस्था भी की गई है।

यह सुविधा होगी

  • समय पर मीटर रीडिंग हो सकेगी।
  • बिल की प्रति आने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।
  • बिल की राशि जमा करने के लिए 10 दिन का समय मिलेगा।
  • वास्तविक खपत के बिल आ सकेंगे।

मोबाइल नहीं है तो संबंधित जोन से मिले सकेगी बिजली बिल की प्रति

बिलिंग के सॉफ्टवेयर को अपडेट किया है। रीडिंग डालते ही ऑटोमेटिक बिल जनरेट हो जाएगा, जो लोगों के मोबाइल पर एसएमएस से पहुंच जाएगा व मेल पर भी बिल पहुंचेगा। बिल की राशि जमा करने के लिए लोगों को करीब 10 दिन का समय मिलेगा। जिन लोगों के पास में मोबाइल नहीं है या उनके नंबर जोन पर दर्ज नहीं है, उन्हें जोन से बिल प्रति दी जाएगी।
-सतीश कुमरावत, ईई, बिजली कंपनी

खबरें और भी हैं...