• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • On An Average, 22 Passengers Are Reaching The City Every Day After Traveling By Flight, Sampling Them As Soon As The List Comes.

हवाईयात्रियों की जांच:फ्लाइट से यात्रा करने के बाद औसतन 22 यात्री रोज शहर पहुंच रहे, लिस्ट आते ही कर रहे इनकी सैंपलिंग

उज्जैनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नोडल अधिकारी बोले- ओमिक्रॉन के संदेह के बीच रोज कम से कम 1200 तक तो सैंपलिंग हो। - Dainik Bhaskar
नोडल अधिकारी बोले- ओमिक्रॉन के संदेह के बीच रोज कम से कम 1200 तक तो सैंपलिंग हो।

कोरोना के नए वैरिएंट आरटी पीसीआर को लेकर स्वास्थ्य अमला सावधानी बरतने के दावे कर रहा है। फोकस शहर में बाहर से आने वालों पर है। खासकर फ्लाइट से सफर करके विदेश या अन्य प्रांतों से उज्जैन पहुंचने वालों पर। औसतन रोज 22 लोग फ्लाइट से सफर के जरिए उज्जैन पहुंच रहे हैं। इनकी लिस्ट आते ही सैंपलिंग की जा रही है।

नए वैरिएंट को लेकर आरटी पीसीआर की टीमों की जिम्मेदारी बढ़ गई है। इन्हें रोज बाहर से रेल, सड़क व हवाई मार्ग से आने वालों की भी सैंपलिंग करना पड़ रही है। क्योंकि आशंका है कि नया वैरिएंट बाहर से आने वालों के जरिए ही शहर में प्रवेश कर सकता है।

बाहर के यात्रियों पर रख रहे निगाह

1 दिल्ली एयरपोर्ट से यात्रियों की लिस्ट स्टेट हेड क्वार्टर पहुंचती है। इसके बाद जिले को प्राप्त होती है। इसमें संबंधित का नाम-पता, उम्र व कांटेक्ट नंबर रहते हैं। विदेश से उज्जैन आने वाले अधिकतर यात्री मुंबई एयरपोर्ट पर उतरते हैं उसके बाद वे यहां पहुंचते हैं। कुछ इंदौर एयरपोर्ट पहुंचने के बाद उज्जैन आते हैं। सूची में लिखे पते के आधार पर इन्हें ट्रेस कर इनकी सैंपलिंग की जा रही है। इनकी संख्या रोज 20 से 22 तक रहती है।

2 ट्रेन से दूसरे प्रांतों से आने वाले या सड़क मार्ग से यहां पहुंचने वालों को भी संपर्क सूत्रों के जरिए ट्रेस कर उनकी सैंपलिंग करवाई जा रही है। इनमें अधिकतर तो श्रद्धालु, व्यापारी, मेहमान के तौर पर आने वाले व कुछ यहीं रहने वाले भी शामिल रहते हैं।

सैंपलिंग बढ़ाने पर जोर

ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए शासन के निर्देश सैंपलिंग बढ़ाने के हैं। जिले में रोजाना औसतन 1200 तक सैंपलिंग के प्रयास किए जा रहे हैं। फीवर ओपीडी में पहुंचने वाले भर्ती होने वाले सभी रोगियों की भी सैंपलिंग करवाई जा रही हैं।

अतिरिक्त सावधानी बरत रहे

फ्लाइट से सफर करके उज्जैन पहुंचने वालों पर ज्यादा फोकस हैं। रोज औसतन ऐसे 22 लोग उज्जैन पहुंचते हैं, प्राथमिकता में इनकी सैंपलिंग करवा रहे हैं। - डॉ. रौनक एलची, नोडल अधिकारी, आरटीपीसीआर

खबरें और भी हैं...