• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • On The Last Day Of The Campaign, The BJP Fielded The Office Bearers Of The Sangh, The Former Home Minister And Senior Leaders Of The Congress Remained Busy.

नगर सरकार चुनाव 2022:प्रचार के आखिरी दिन भाजपा ने संघ के पदाधिकारी उतारे मैदान में, कांग्रेस में पूर्व गृह मंत्री और वरिष्ठ नेता जुटे रहे

उज्जैनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वीडियो में मारपीट करते हुए दिख रहे युवक। - Dainik Bhaskar
वीडियो में मारपीट करते हुए दिख रहे युवक।

नगर निगम चुनाव के प्रचार के आखिरी दिन सोमवार को राजनीतिक दलों ने अपनी ताकत झोंक दी। भाजपा ने संघ के पदाधिकारी भी मैदान में उतारे और दिनभर सभी वार्डों में रैलियां निकाली। कांग्रेस में पूर्व गृह मंत्री बाला बच्चन व वरिष्ठ नेता मतदाताओं से संपर्क करने में जुटे रहे।

शाम को चुनावी शोरगुल थमने के बाद राजनीतिक दल मंगलवार की रणनीति बनाने में जुट गए। तय हुआ है कि इस दिन पुन: समाज प्रमुखों, क्षेत्र में वर्चस्व रखने वाले वरिष्ठ नागरिकों व एसोसिएशन के पदाधिकारियों से मुलाकात आदि का सिलसिला चलेगा। प्रत्याशियों-पार्टी पदाधिकारियों व इनके बीच बैठकें होंगी।

महापौर व 54 पार्षदों के चयन के लिए 6 जुलाई काे मतदान होने है। परिवहन विभाग ने मतदान दलों को रवाना करने के लिए 153 बसें और 74 फोर व्हीलर वाहन अधिगृहीत कर इन्हें इंजीनियरिंग कॉलेज में खड़ा करवाया था। यहां बारिश से बचने के लिए बड़े-बड़े डोम भी बनाए हैं। यहां से मतदान सामग्री वितरण की जाएगी।

मंगलवार को मतदान दल वाहनों से मतदान केंद्रों के लिए रवाना होंगे। शहर के कुल 568 मतदान केंद्र बनाए हैं। इनमें से 121 संवेदनशील हैं। यहां अतिरिक्त बल लगाया गया है। व्यवस्था की दृष्टि से सभी मतदान केंद्रों को 67 सेक्टर में बांटा गया है।

उज्जैन शहर में कुल 4 लाख 61 हजार 103 मतदाता है, जो महापौर व 54 पार्षदों का चयन करेंगे। इधर, कलेक्टर आशीष सिंह ने मतदान के समाप्त होने के समय से 48 घंटे पूर्व से शराब की दुकानें बंद रखने के निर्देश दिए हैं।

वार्ड 25 के भाजपा प्रत्याशी के चुनाव कार्यालय में मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

वार्ड 25 के भाजपा प्रत्याशी के चुनाव कार्यालय में मारपीट का वीडियो वायरल हुआ है। वीडियो में कुछ युवक एक युवक से मारपीट करते दिख रहे हैं और फिर वह कार्यालय में घुसता दिख रहा है तो युवक अंदर ही मारपीट कर रहे हैं।

मारपीट का वीडियो सामने आने के बाद निर्दलीय प्रत्याशी सीताबाई के पुत्र अनिलसिंह बैस ने भाजपा प्रत्याशी योगेश्वरी राठौर और भाजपा नेता पर परेशान करने का आरोप लगाया है। अनिलसिंह ने कहा सामान्य वार्ड में पिछड़ा को टिकट भाजपा ने दिया। मेरी माताजी चुनाव में खड़ी हुई तो भाजपाई नाराज हो गए हैं। भाजपा कार्यालय में हमारे कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की।

घटना रविवार रात 10.30 बजे की

इधर, भाजपा प्रत्याशी योगेश्वरी राठौर ने कहा घटना रविवार रात 10.30 बजे की है। इस समय कार्यालय बंद हो गया था। झगड़े में मेरे परिवार व कार्यकर्ता का कोई रोल नहीं है। दूसरे लाेग भी लड़ते हुए मेरे कार्यालय में घुसे थे। पार्टी ने हमें टिकट दिया। हम चुनाव लड़ रहे हैं। मेरे खिलाफ फेक न्यूज फैलाई जा रही। इसकी शिकायत थाने में करूंगी।

वार्ड 20 में कार्यकर्ता भिड़े, 4 पर केस
गोलामंडी वार्ड 20 में भाजपा कार्यकर्ताओं में ही मारपीट हो गई। खाराकुआं पुलिस ने चार युवकों पर केस दर्ज कर एक को गिरफ्तार किया है। विवाद का कारण वार्ड से टिकट नहीं मिलना और एक पक्ष के युवक को वाट्सएप ग्रुप से डिलीट करना था। इस बात को लेकर सोनू पिता रमेशचंद्र मालवीय ने विशाल शर्मा के साथ भाजपा कार्यालय के सामने मारपीट कर दी। इसके बाद विशाल घर पहुंचा तो सोनू अपने भाई नवीन व अन्य साथी बंटी व राज के साथ पहुंचा और विशाल के घर पर पत्थरबाजी करते हुए मारपीट की।

कार्यालय में भी तोड़फोड़ की
पुलिस ने सोनू, नवीन, बंटी और राज के खिलाफ मारपीट का प्रकरण दर्ज कर नवीन को गिरफ्तार भी कर लिया है। बताया जाता है कि दोनों ही पक्ष भाजपा से जुड़े हुए हैं। इधर, भाजपा पार्षद प्रत्याशी प्रकाश शर्मा ने बताया कुछ असामाजिक तत्वों ने अशांति फैलाने का प्रयास किया। कार्यालय में भी तोड़फोड़ की। पुलिस को शिकायत की।

कांग्रेस स्ट्रांग रूम पर बैठाएगी पहरा, 44 लोगों की टीम को दी जिम्मेदारी, मतगणना तक रोज 4-4 लोग रखेंगे नजर, भाजपा चुनाव प्रभारी बोले- इस बारे में मतदान के बाद विचार

कांग्रेस चुनाव में कोई रिस्क नहीं लेना चाह रही है। पार्टी ने इसी कड़ी में मतदान के बाद स्ट्रांग रूम के बाहर निजी पहरा लगाने की रणनीति तैयार कर रखी है। शहर के महापौर व 54 पार्षद पद के प्रत्याशियों के लिए मतदान ईवीएम से होने है।

ये ईवीएम मतदान के बाद इंजीनियरिंग कॉलेज के स्ट्रांग रूम में रखी जाएंगी। इनकी सुरक्षा के लिए यहां प्रशासनिक स्तर पर बल तैनात रखने के साथ ही कैमरे से भी निगरानी के प्रबंध रहते हैं। बावजूद राजनीतिक दल भी अपनी संतुष्टि के लिए निजी तौर पर भी ईवीएम की सुरक्षा के प्रबंध करते हैं।

कांग्रेस ने रणनीति बनाई

शहर कांग्रेस कमेटी ने रणनीति बनाई है। मतदान के बाद से मतगणना की शुरुआत तक कांग्रेस स्ट्रांग रूम के बाहर अपने सुरक्षाकर्मी तैनात करेगी। ये सुरक्षाकर्मी पार्टी पदाधिकारी-कार्यकर्ता व अन्य विश्वसनीय लोग हो सकते हैं। मंगलवार को ऐसे 44 लोगों की टीम का गठन कांग्रेस करेगी। प्लानिंग है कि रोज 4-4 लोग स्ट्रांग रूम के बाहर पहरा देंगे।

इधर भाजपा चुनाव समिति के प्रभारी ने कहा कि अभी इस बारे में सोचा नही है। मतदान के बाद विचार करेंगे। गौरतलब है कि इससे पहले विधानसभा चुनाव के दौरान भी विधायक पद के प्रत्याशियों ने भी स्ट्रांग रूम के बाहर निजी तौर पर गनधारी सुरक्षागार्ड तैनात करवाए थे।

कार्यकर्ता तैनात करने परमिशन लेना होगी

मतदान व ईवीएम जमा होने के बाद कोई प्रत्याशी स्ट्रांग रूम के बाहर सुरक्षाकर्मी व कार्यकर्ता तैनात करना चाहता है तो कर सकता है। इसके लिए उसे परमिशन लेना होगी।
वीरेंद्रसिंह दांगी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी

ईवीएम में कोई गड़बड़ी न हाे, इसलिए 44 लोगों की टीम गठित की जा रही है। 4-4 सदस्य रोज स्ट्रांग रूम के बाहर तैनात करेंगे। ये मतगणना तक वहां तैनात रहेंगे।
रवि भदौरिया, अध्यक्ष, शहर कांग्रेस कमेटी

ऐसी कोई मंशा नहीं है। इस बारे में मतदान के बाद विचार करेंगे। -अनिल जैन कालूहेड़ा, प्रभारी, भाजपा चुनाव समिति

खबरें और भी हैं...