• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Online Selling Prasad Of Shrinath Ji, Somnath And Sanwariaji With Mahakal, Case Registered In Ujjain

प्रसाद के नाम पर भावनाओं से खिलवाड़:महाकाल के साथ श्रीनाथ जी, सोमनाथ और सांवरियाजी का प्रसाद ऑनलाइन बेच रहे, उज्जैन में केस दर्ज

उज्जैनएक वर्ष पहले

महाकलेश्वर, सोमनाथ और सांवरियाजी का प्रसाद ऑनलाइन बेचने पर उज्जैन में वेबसाइ संचालक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। महाकालेश्वर का 260 रुपए प्रति किग्रा का प्रसाद एक वेबसाइट श्रीटेंपल डॉट कॉम पर अवैध रूप से 351 रुपए प्रति किग्रा ऑनलाइन बेचा जा रहा है। इस पर संज्ञान लेते हुए महाकाल मंदिर समिति ने वेबसाइट पर महाकाल थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।

वेबसाइट सोमनाथ, श्रीनाथजी और सांवरियाजी का प्रसाद भी ऑनलाइन बेच रही है।
वेबसाइट सोमनाथ, श्रीनाथजी और सांवरियाजी का प्रसाद भी ऑनलाइन बेच रही है।

राजस्थान के नाथद्वारा से संचालित होने वाली इस वेबसाइट पर महाकाल के साथ सोमनाथ, श्रीनाथ जी और सांवरियाजी का प्रसाद भी ऑनलाइन बेचा जा रहा है। कंपनी का रजिस्टर्ड ऑफिस मुंबई बताया जा रहा है। इतना ही नहीं वेबसाइट उज्जैन में भी महाकाल के प्रसाद को बेचने के नाम पर 351 रुपए वसूल रही है।

महाकाल मंदिर प्रशासक गणेश धाकड़ ने कहा कि वेबसाइट संचालक अनाधिकृत रूप से महाकाल के प्रसाद का व्यवसाय कर रहे हैं। महाकाल मंदिर समिति की ओर से दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं को नो प्रॉफिट नो लॉस की तर्ज पर लड्‌डू प्रसाद दिया जाता है, लेकिन यह वेबसाइट श्रद्धालुओं से महाकाल प्रसाद के नाम पर धोखाधड़ी और अवैध वसूली कर रही है। यह गैरकानूनी है।

धाकड़ ने कहा कि महाकाल मंदिर समिति की ओर से महाकाल थाने में धारा 420 के तहत एफआईआर दर्ज करवा दी गई है। एएसपी अमरेंद्र सिंह ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। वहीं मंदिर समिति भी अपने कर्मचारियों से पूछताछ कर रही है। माना जा रहा है कि कि इसमें समिति का कोई कर्मचारी अथवा बाहरी व्यक्ति शामिल हो सकता है जो वेबसाइट तक या सीधे श्रद्धालुओं तक प्रसाद यहां से भेजता हो।

खबरें और भी हैं...