पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जनसहयोग से हारेगा काेरोना:जिला अस्पताल में लगेगा ऑक्सीजन प्लांट, 25 लाख की किस्त आई

उज्जैनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सांसद फिरोजिया के अाग्रह पर कोल इंडिया ने दिया 50 लाख का सीएसआर फंड

कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए अब जिला चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्लांट लगाया जाएगा। दो वेंटीलेटर भी लगाए जाएंगे। यह सुविधा शुरू होने से गंभीर मरीजों को इंदौर रैफर नहीं करना पड़ेगा। सांसद अनिल फिरोजिया के आग्रह पर कोल इंडिया ने 50 लाख से अधिक का सीएसआर फंड दिया है। 25 लाख की पहली किस्त भी जारी हो गई है। सांसद ने इसके लिए कोल इंडिया को पत्र लिखकर उज्जैन के जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने के लिए सीएसआर फंड जारी करने के लिए कहा था। इसके बाद कोल इंडिया ने 50.19 लाख रुपए मंजूर कर दिए।

कोल इंडिया के कार्यकारी निदेशक बी.साई राम ने सांसद फिरोजिया को पत्र जारी कर बताया है कि जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने के लिए कोल इंडिया ने राशि स्वीकृत कर दी है और 25 लाख की पहली किस्त जारी कर दी है। जल्द ही प्लांट का कार्य शुरू होगा।

जिला अस्पताल 720 बेड का है, यहां उज्जैन के अलावा दूसरे जिलों के मरीज इलाज के लिए आते हैं। ऑक्सीजन प्लांट व वेंटीलेटर मिलने से मरीजों के इलाज में सुविधा होगी। सांसद ने गैल इंडिया से भी सीएसआर फंड की मांग की थी। इस पर गैल इंडिया ने जिला अस्पताल के लिए दो वेंटीलेटर दिए हैं, जो अगले सप्ताह लगाए जाएंगे।
सांसद निधि नहीं थी तो सांसद ने सीएसआर फंड से किया जरूरतों को पूरा
कोरोना के कारण सांसदों की दो साल की सांसद निधि का उपयोग कोरोना से लड़ने के लिए सीधे सरकार ने कर लिया है। सांसद अनिल फिरोजिया ने क्षेत्र की स्वास्थ्य सुविधाओं को पूरा करने के लिए कॉरपोरेट कंपनियों के सीएसआर फंड से स्वास्थ्य सुविधाओं को पूरा करवाया है। इसमें उन्होंने ग्रेसिम उद्योग से 30 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन, लैंक्सेस से 10 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, ऑक्सीजन प्लांट सहित अन्य संसाधन उपलब्ध करवाए।

खबरें और भी हैं...