पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एक्टिव केस 100 से भी कम:ग्रामीण क्षेत्रों में भी कम होने लगे मरीज, 149 पंचायतों में सिर्फ 241 एक्टिव केस

उज्जैन25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ग्राम पंचायतों के निरीक्षण दौरान जानकारी लेते कलेक्टर व अन्य अधिकारी। - Dainik Bhaskar
ग्राम पंचायतों के निरीक्षण दौरान जानकारी लेते कलेक्टर व अन्य अधिकारी।

शहर के साथ ही अब अंचलों में भी कोरोना संक्रमितों में कमी आ रही हैं। 19 मई को जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना नियंत्रण की समीक्षा करने शहर आए थे तब जिले की 609 ग्राम पंचायतों में से 299 में 1142 एक्टिव केस थे।

शनिवार को दस दिन बाद यह आंकड़ा घटकर 149 ग्राम पंचायतों में 241 एक्टिव केस का रह गया। अधिकारियों का अनुमान है कि सभी के प्रयासों से एक जून तक यह आंकड़ा 40 पंचायतों में 100 से भी कम एक्टिव केस का ही रह जाएगा। यह दावा इसलिए भी किया जा रहा है कि क्योंकि कुछ दिनों से कलेक्टर आशीष सिंह, एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला व जिला पंचायत सीईओ अंकित अस्थाना गांवों के कंटेनमेंट क्षेत्र व आइसोलेशन सेंटरों का निरीक्षण कर रहे हैं।

पंचायत व ग्राम समितियों के पदाधिकारियों से चर्चा कर उन्हें कोरोना कंट्रोल के लिए किए जाने वाले प्रयासों के बारे में बता रहे हैं। इसी कड़ी में शनिवार को भी अधिकारियों की टीमों ने विभिन्न गांवों का दौरा किया।

अधिकतर गांवों में एक-एक मरीज ही सेंटर पर मिला

टीम को देखने में आया कि गांवों के आइसोलेशन सेंटर भी अब खाली होने लगे हैं, अधिकांश गांवों में एक-एक ही रोगी सेंटरों पर मिला। ग्राम तालोद पहुंची अधिकारियों की टीम ने आइसोलेशन सेंटर का निरीक्षण कर सर्वे दल से पूछा कि कितने राउंड हो गए हैं।

जवाब मिला कि चौथा राउंड चल रहा है, ग्रामीण सर्वे में सहयोग कर रहे हैं। ग्राम उमरिया खालसा के सर्वे दल ने अधिकारियों को बताया कि जरूरतमंदों को आवश्यकता अनुसार मेडिकल किट वितरण की जा रही है।

ग्राम लेकोडा में आइसोलेशन सेंटर के निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने पंचायत सचिव तथा सरपंच को निर्देश दिए अगले कुछ दिन और सख्ती की जाकर लोगों का मूवमेंट रोकें। यदि कोई मास्क नहीं पहनता है तो उसके विरुद्ध जुर्माने तथा एफआईआर की कार्रवाई करवाएं।

अधिकारियों ने ग्राम मताना में होम क्वारेंटाइन मरीजों से उनका हालचाल पूछा तथा उन्हें कुछ दिनों तक घर से बाहर नहीं निकलने के लिए कहा। ग्राम हरनावदा में आइसोलेशन सेंटर का निरीक्षण कर अधिकारियों ने ग्रामीणों को अगले तीन चार दिनों तक ज्यादा सतर्कता बरतने के लिए कहा।

खबरें और भी हैं...