• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • People Of Pirjhalar Village Said, Till There Is No Road, No Vote, Road Has To Be Built With Their Own Money, No Electricity

रेलवे क्रॉसिंग पर डिलीवरी केस : चुनाव का बहिष्कार:​​​​​​​पीरझालर के लोग बोले, जब तक सड़क नहीं, तब तक वोट नहीं

उज्जैनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिस गांव में रेलवे क्रॉसिंग पर महिला ने नवजात को जन्म दिया था, उस गांव के लोगों ने पंचायत चुनाव का बहिष्कार कर दिया है। ग्रामीणों का कहना है कि गांव में बिजली भी चौबीस घंटे नहीं आती है। रेलवे स्टेशन पर सड़क खराब होने और कीचड़ हो जाने से स्टेशन पर आने-जाने वालों को दिक्कतें आ रही है।

मामला उज्जैन से करीब पचास किमी दूर गांव पीरझालर का है। यहां 4 दिसंबर को कीचड़ के कारण गांव तक एंबुलेंस नहीं पहुंचने से एक महिला ने रेलवे क्रॉसिंग पर ही बच्ची को जन्म दिया था। बाद में बच्ची की मौत हो गई।

चुनाव का बहिष्कार करने के लिए ग्रामीणों ने एसडीएम को पत्र भी लिखा।
चुनाव का बहिष्कार करने के लिए ग्रामीणों ने एसडीएम को पत्र भी लिखा।

ग्रामीणों का कहना है कि रेलवे स्टेशन का रास्ता कच्चा होने के कारण उन्हें अपने खर्च पर मुरम डलवाना पड़ती है। लेकिन ये पानी व बारिश के कारण बह जाती है। इस वजह से ग्रामीण रेलवे स्टेशन तक भी नहीं जा पाते। बीमार और दिव्यांगों को भी स्टेशन तक लाने व ले जाने में परेशानी होती है।

बिजली नहीं, तो कैसे पढ़ें बच्चे -
ग्रामीण कमल गोयल ने बताया कि गांव में चौबीस घंटे बिजली भी नहीं आती है। इस वजह से बच्चे घर पर ऑनलाइन पढ़ाई भी नहीं कर पाते हैं। किसान अपनी फसलों को पानी भी नहीं दे पा रहे हैं।
इसलिए चुनाव का बहिष्कार -
ग्रामीणों ने एक स्वर में निर्णय लिया कि जब तक गांव की सड़क नहीं बन जाती है, तब तक वोट नहीं डालेंगे। अभी पंचायत चुनाव और इसके बाद जो भी चुनाव आएंगे सभी का बहिष्कार किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...