पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Quarrel Between Two Parties Over Cattle Rearing, Attacked By Calling Home To Talk; Death In Hospital

उज्जैन में लॉकडाउन में युवक की पीट-पीटकर हत्या:मवेशी पालन को लेकर दो पक्षों में हुआ झगड़ा, बातचीत करने के लिए घर बुलाकर कर दिया हमला; अस्पताल में मौत

उज्जैन2 महीने पहले
बीच सड़क पर लाठियों से आरोपियों ने बीच सड़क पर पीटा।

शहर के लवकुश नगर में मवेशी पालन को लेकर हुए विवाद के बाद कुछ लोगों ने लाठियों से पीट-पीटकर युवक की हत्या कर दी। आरोपियों ने बातचीत करने के बहाने उसे घर बुलाया। यहां पहले से ही लाठियां लेकर बैठे पांच लोग उस पर टूट पड़े। मरणासन्न होने के बाद भी आरोपी लाठियां बरसाते रहे। इसके बाद घायल को सड़क पर फेंक दिया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां रविवार सुबह दम तोड़ दिया। वहां मौजूद किसी शख्स ने पिटाई का वीडियो भी बना लिया।

एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह ने बताया, संत बालीनाथ नगर निवासी गोविंद (26) पिता राजेश लकवाल की लवकुश नगर में रहने वाले लाला भाट, विशाल भाट, सागर भाट और उसके साथियों ने शुक्रवार को मारपीट की थी। घायल अवस्था में गोविंद को जिला चिकत्सालय में फिर जेके नर्सिंग होम में कराया गया। यहां हालत बिगड़ने के बाद इंदौर रेफर कर दिया गया। रविवार सुबह उसकी मौत हो गई। वीडियो सामने आने के बाद पुलिस आरोपियों को तलाश रही है।

ये है मामला

गोविंद के दोस्त सूरज ने बताया कि संत बालीनाथ नगर के गोविंद लकवाल और लवकुशनगर का आशु डागर मवेशी पालन करते हैं। इनके बीच मवेशी पालन की बात को लेकर विवाद भी होता रहा है। शातिर आशु डागर ने शुक्रवार को बातचीत का झांसा देकर गोविंद को घर बुलाया। उसके घर पर साथी लाला भाट, विशाल भाट, सागर भाट, दीपक व भय्यू हथियार लेकर तैयार बैठे थे। गोविंद अपने दोस्त सूरज के साथ जैसे ही आशु के घर में दाखिल हुआ, आरोपी दोनों पर टूट पड़े। सूरज तो जान बचाकर भाग निकला, लेकिन गोविंद को आरोपियों ने घेर लिया।

चारों तरफ से गोविंद को घेरकर आरोपी, रॉड, लट्‌ठ व चाकू से गोविंद पर वार करते रहे। गोविंद आरोपियों के सामने हाथ-पैर जोड़ता रहा, लेकिन आरोपियों के सिर पर खून सवार था। जैसे-तैसे आशु के घर से निकलकर गोविंद बाहर आकर सड़क पर गिरा, तो आरोपी यहां भी पहुंच गए। आशु ने गोविंद को पकड़ लिया। सागर भाट लट्‌ठ से पीटता रहा। इसके बाद मरणासन्न अवस्था में आरोपी गोविंद को उसके घर के सामने पटक गए। परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे। बाद में इंदौर के एमवाय अस्पताल ले गए, जहां गोविंद ने दम तोड़ दिया।

खबरें और भी हैं...