पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Reading Together For Two Months, Did Not Even Distribute The Bills To The Residents And The Company's Team Reached To Cut The Connections Of The People.

बिजली रीडिंग में लापरवाही:दो माह की एक साथ रीडिंग, रहवासियों को बिल भी नहीं बांटे और कंपनी की टीम लोगों के कनेक्शन काटने पहुंची

उज्जैन2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो
  • रहवासी बोले- बिल की राशि जमा करने की अंतिम तारीख निकल जाने के बाद भी उनके यहां बिल नहीं आए

बिजली कंपनी के महाश्वेतानगर जोन ने दो माह की एक साथ रीडिंग के बिजली बिल लोगों को जारी कर दिए हैं। रहवासियों को बिल भी नहीं बांटे गए हैं और टीमें उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटने के लिए पहुंच रही है। ऐसे में विवाद की स्थिति बन रही है।

मामला देवास रोड स्थित भार्गव नगर का है। यहां पर दो माह की एक साथ रीडिंग की गई और लोगों को भारी भरकम बिल जारी कर दिए गए। यहां बिलों का वितरण भी नहीं किया गया और बिजली कंपनी की टीम लोगों के कनेक्शन काटने पहुंच रही है। यहां रहने वाले जीवन अजमेरी के यहां पर बिल नहीं पहुंचा तो उन्होंने ऑनलाइन बिल की प्रति निकलवाई जिसमें 875 यूनिट का बिल पाया गया।

बिल में एनर्जी चार्जेस 5450.39 रुपए, फिक्स चार्ज 1475 व बकाया 13043 रुपए जोड़कर कुल 20765 रुपए का बिल जारी किया गया। बिल नहीं आने से उपभोक्ता बिल की राशि जमा नहीं कर पाए तो बिजली कंपनी की टीम उनके यहां बिजली कनेक्शन काटने पहुंच गई।

ऑनलाइन बिल की प्रति निकलवाई तो पता चला दो माह की रीडिंग जाेड़ दी
यहां के रहवासियों का कहना है कि बिल की राशि जमा करने की अंतिम तारीख निकल जाने के बाद भी उनके यहां पर बिल नहीं आए, ऐसे में लोग बिल की राशि तय समय पर जमा नहीं कर पाए। जागरूक उपभोक्ताओं ने जोन पर जाकर या ऑनलाइन बिल की प्रति निकलवाई तो पता चला कि दो माह की रीडिंग एकसाथ जोड़ दी गई है, ऐसे में हजारों रुपए बिल आ गया। बिल में सुधार के लिए महाश्वेतानगर जोन पर पहुंच रहे तो यहां सुनवाई करने को कोई तैयार नहीं है। उपभोक्ता के यहां पर मार्च और अप्रैल में एक जैसी 371 यूनिट का बिल जारी किया गया, उसके बाद मई में 797 यूनिट का बिल जारी कर दिया।

यह समाधान... यहां शिकायत करें लोग

  • मक्सी रोड स्थित कार्यालय में सप्ताह में दो दिन बिजली संबंधी शिकायतों की सुनवाई होती है, जहां लोग अपना पक्ष रख सकते हैं।
  • विद्युत नियामक आयोग में शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।
  • उपभोक्ताओं फोरम में केस लगा सकते हैं।
  • 1912 नंबर पर या जोन प्रभारी व एई को सीधे शिकायत कर सकते हैं।

जोन प्रभारी बदले पर नाम व नंबर पुराने : महाश्वेता जोन के एई एमके शर्मा के स्थान पर एई ललिता ब्रह्मवंशी को पदस्थ किया गया है लेकिन बिल में शर्मा का नाम ही प्रिंट हो रहा है तथा मोबाइल नंबर भी उनका ही दर्ज है। जोन की एई ब्रह्मवंशी के मोबाइल 8989984264 उपभोक्ता फोन लगाते हैं लेकिन वे किसी का भी फोन रिसीव नहीं करती हैं।

शिकायत सुनने वाला नहीं : महाश्वेता नगर और वल्लभनगर जोन ऐसे हैं, जहां बिल संबंधी शिकायत सुनने वाला कोई नहीं है। यहां शिकायतों का निराकरण नहीं हो पा रहा है।

खबरें और भी हैं...