• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Returned To The Farmer Who Brought Wheat Mite, Removed The Surveyor, Notice To The Institution Manager

निरीक्षण:घुन लगे गेहूं लेकर पहुंचे किसान को लौटाया सर्वेयर को हटाया, संस्था प्रबंधक को नोटिस

उज्जैन8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी केंद्रों पर अव्यवस्थाओं की शिकायत के बाद पहुंचा अफसरों का दल

समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी में अव्यवस्था की शिकायतें मिलने के बाद अफसरों का दल केंद्रों का जायजा लेने पहुंचा तो उन्हें हकीकत पता चली। उन्होंने मौके पर कार्रवाई भी की। सोमवार को अपर कलेक्टर और नोडल जिला उपार्जन अविप्रसाद, जिला आपूर्ति नियत्रंक एमएल मारू ने खरीदी केंद्र उन्हेल स्टेडियम का औचक निरीक्षण किया।

इसमें पाया कि खरीदी केंद्र पर किसान रामलाल पिता नंदराम उन्हेल कस्बा का गेहूं घुन लगा हुआ था। उसमें जीवित किट लगा (धनुरिया) पाया गया। यहां नाॅन एफएक्यू गेहूं मौके पर खरीदना पाया। जिसमें किसानों के सामने गेहूं के सैंपल लिए और खरीदे गेहूं किसान को वापस दिए। अपर कलेक्टर ने सर्वेयर वीरेंद्र रावत को सर्वेयर के पद से अलग करने, संस्था प्रबंधक रामगोपाल अजमेरा को केंद्र पर अनियमितता करने पर कारण बताओ नोटिस दिया। दल ने खरीदी केंद्र बेडावन्या, बरखेड़ा मांडन, आक्यानजीक, पिपल्या डाबी का भी निरीक्षण किया।

इधर, खरीदी केंद्रों पर दो सप्ताह से खरीदे गेहूं परिवहन नहीं करने पर परिवहनकर्ता सेक्टर नागदा-खाचरौद को कारण बताओ नोटिस जारी किया। जिला स्तरीय समिति ने खरीदी केंद्रों का निरीक्षण किया। अफसरों का कहना है कि कहीं भी नाॅन एफएक्यू, घुन लगे हुए गेहूं की खरीदी पाई गई तो कार्रवाई की जाएगी। निरीक्षण दल में कनिष्ठ आपूर्ति अफसर नारायण मुवेल, नागेश दायमा भी मौजूद थे।

किसान से पैसे लेकर अनाज पास किया जा रहा था, संस्था प्रबंधक निलंबित
जिले में चल रहे समर्थन मूल्य पर गेहूं सहित अन्य अनाज की खरीदी में लगातार गड़बड़ी व लापरवाही सामने आ रही है। ताजा मामला ढाबला रेहवारी खरीदी केंद्र का है। यहां नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा अधिकृत एजेंसी आरबी एसोसिएट का सर्वेयर साहिल शुक्ला किसानों से रुपए लेकर उनके अनाज को पास करते पाया गया। साथ ही वह किसानों से रुपए की अनधिकृत मांग भी कर रहा था।

जिला आपूर्ति नियंत्रक एमएल मारू के सामने यह गड़बड़ी औचक निरीक्षण में सामने आई थी। साथ ही ये भी संज्ञान में आया कि सर्वेयर द्वारा की जा रही इस गड़बड़ी का पता सेवा सहकारी संस्था मर्यादित ढाबला रेहवारी के समिति प्रबंधक राजेश सिंह तोमर को था। बावजूद उसके द्वारा मामले में सर्वेयर पर कार्रवाई के लिए कोई प्रतिवेदन प्रस्तुत नहीं किया गया, ना ही जिम्मेदार अधिकारियों को अवगत करवाया गया।

लिहाजा मामले में निरीक्षण रिपोर्ट व प्रतिवेदन कार्रवाई के लिए जिला आपूर्ति नियंत्रक मारू ने कलेक्टर आशीष सिंह के समक्ष प्रस्तुत किया था। इसी कड़ी में तोमर को निलंबित कर दिया गया। सर्वेयर शुक्ला को भी हटाते हुए ब्लैक लिस्टेड की कार्रवाई की गई। तोमर के निलंबन होने पर अब ढाबला रेहवारी में समिति प्रबंधक का दायित्व समिति के लिपिक अनार सिंह पंवार संभालेंगे।

खबरें और भी हैं...