कोर्ट की अवमानना:एसडीएम के बाबू से किया दुर्व्यवहार, कहे अपशब्द, पटवारी बोरीवाल निलंबित

उज्जैन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोठी महल क्षेत्र के पटवारी नरेंद्र बोरीवाल को कलेक्टर आशीषसिंह ने निलंबित कर दिया है। उन पर घटि्टया तहसील एसडीओ गोविंद दुबे के रीडर राजेश वर्मा से अपशब्द कहने व दुर्व्यवहार का आरोप है। कलेक्टर ने निलंबित आदेश में कहा है कि बोरीवाल ने न्यायालयीन कार्य में भी बाधा उत्पन्न की। इस पर उन्हें एसडीओ घटिया ने भी समझाइश के लिए बुलाया पर वे नहीं पहुंचे। तब एसडीओ दुबे ने बोरीवाल के खिलाफ शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए बाउंड ओवर की कार्रवाई भी की है। कलेक्टर ने इस पर बोरीवाल को निलंबित कर कोठी स्थित तहसील कार्यालय में तैनात कर दिया है।

घटना जुलाई माह में बोरीवाल ने घटि्टया तहसील एसडीओ गोविंद दुबे के रीडर राजेश वर्मा से कहासुनी हो गई। तब वे जोर-जोर से बोलने लगे। उस समय एसडीएम कोर्ट में कार्रवाई चल रही थी। एसडीओ ने जब बोरीवाल को बुलाया तो वे न्यायालय के समक्ष उपस्थित नहीं हुए। फिर उन्होंने बोरीवाल को बुलाने के लिए अपने ही स्टाफ को भेजा तब तक बोरीवाल वहां से चले गए।

बोरीवाल का विवादों से पुराना नाता, पहले भी चोरी के आरोप में हो चुके हैं निलंबित -
बोरीवाल के इसके पहले भी निलंबित हो चुके हैं। शनि मंदिर में चोरी के आरोप में कलेक्टर ने इन्हें निलंबित किया था। नेता व अफसर अपने साथ दुर्व्यवहार करने के मामले में बोरीवाल की पहले भी कई बार शिकायतें कलेक्टर व अन्य अधिकारियों से कर चुके हैं।

खबरें और भी हैं...