• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Searching For Opportunities In Lockdown Effect Or Disaster: Pulses Expensive By Rs 5 To 20, Increase In Sugar By Two And Flour By One Rupee, Increase In Oil Prices

मौके का फायदा:लॉकडाउन असर या आपदा में अवसर तलाशा : दालें 5 से 20 रुपए तक महंगी, शकर पर दो और आटे पर एक रुपया बढ़ा, तेल के भाव भी बढ़े

उज्जैन8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शाम होते-होते दौलतगंज बाजार में पैकिंग आटे की किल्लत हो गई, पूछने पर व्यापारी बोले-शार्टेज चल रही है

रातोरात दाल, शकर, आटा, तेल आदि खाद्य व किराना सामग्रियों के दाम बढ़ गए। इसे कोरोना के दूसरे चरण के दस दिवसीय लॉकडाउन का असर कहें या आपदा में अवसर तलाशने की प्रवृत्ति मानें। सोमवार को जब 11 बजे दौलतगंज का बाजार और शहर की अन्य किराना दुकानें खुली तो इन पर भीड़ उमड़ पड़ी। दालें 5 से 20 रुपए किलो तक महंगी थी। प्रति किलो शकर पर दो और आटे पर एक रुपया बढ़ा हुआ था।

तेल के दाम भी उछले हुए थे। कीमत बढ़ने के पीछे कारण पूछने पर एक ही तर्क मिल रहा था कि शार्टेज चल रहा है। शहर में शुक्रवार शाम से 60 घंटे के लिए लॉकडाउन लगा था। तब तक खाद्य वस्तुओं के दाम ठीक थे लेकिन जैसे ही लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई दाम बढ़ने लगे।
15 किलो के तेल के डिब्बे पर 100 रुपए बढ़े
गुरुवार को 15 किलो तेल का डिब्बा 1950-2000 रुपए तक में मिल रहा था। शुक्रवार से ये महंगा होकर 2100 रुपए तक जा पहुंचा। वहीं खुला तेज भी 140 से बढ़कर 150 रुपए किलो तक पहुंच जा पहुंचा। जबकि पैकिंग प्रति किलो तेल के पाउच की कीमत यथावत 140 रुपए ही रही।

1 क्विंटल शकर पर 200 रुपए बढ़े, खेरची में तीन रुपए
शकर भी महंगी हुई। लॉकडाउन अवधि बढ़ने का असर यह हुआ कि जो एक क्विंटल शकर 3350 में आ रही थी, सोमवार को उसकी कीमत 3550 हो गई। सीधे 200 रुपए बढ़ गए। यानी थोक में ही दो रुपए प्रति किलो बढ़े। खेरची में शकर उपभोक्ताओं को 37 से साढ़े 37 रुपए किलो में मिली जो पहले साढ़े साढ़े 34 रुपए किलो में मिल रही थी।
25 किलो आटे के पैकेट के भाव 510 से 540 तक पहुंचे
इधर बाजार में विभिन्न ब्रांड के आटे के पैकेट मिलते हैं। औसतन 25 किलो आटे का जो पैकेट लॉकडाउन अवधि बढ़ने से पहले तक 510 रुपए में मिल रहा था, उसकी कीमत बढ़कर 535 से 540 रुपए तक हो गई।
नोट : जानकारी दालों के थोक व्यापारी ऋषभ जैन रामपुरिया, तेल के थोक व्यापारी अबीजर अत्तार व किराना के रिटेल कारोबारी भगवानदास गुरनानी से चर्चा के अनुसार।

खबरें और भी हैं...