पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना संक्रमण:ब्राह्मणों का श्रावणी उपाकर्म आज घाटों से ऑनलाइन प्रसारण करेंगे

उज्जैन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण के चलते श्रावण पूर्णिमा पर ब्राह्मणों का श्रावणी उपाकर्म भी ऑनलाइन होगा। अधिकतर ब्राह्मण घर या स्वयं के मंदिर परिसर में यह संस्कार करेंगे। इसमें हेमाद्रि और दस विधि स्नान के साथ जनेऊ बदली जाएगी। प्रशासन ने संक्रमण के चलते रामघाट और सिद्धवट घाट पर सीमित संख्या में आयोजन करने को कहा है।
प्रशासनिक प्रतिबंध के चलते अभा ब्राह्मण समाज ने ऑनलाइन पर्व मनाने की व्यवस्था की है। अध्यक्ष पं. सुरेंद्र चतुर्वेदी के अनुसार एप के माध्यम से ऑनलाइन प्रसारण का निर्णय लिया गया है। यह पर्व आचार्य द्वारकेश व्यास के नेतृत्व में ऑनलाइन डिजिटल वर्चुअल लिंक के माध्यम से सिद्धवट मंदिर तीर्थ पर सुबह 10 बजे से तथा आचार्य राम शुक्ल तथा कपूर शुक्ल के आचार्य तत्व में रामघाट पर सुबह 8 बजे से ऑनलाइन प्रसारण किया जाएगा। दोनों ही तीर्थ स्थानों पर जिला प्रशासन के आदेश के कारण प्रतीकात्मक रूप से आचार्यों के सानिध्य में विधि की जाएगी। इसमें हेमाद्रि, दसविधि, पंचगव्य स्नान कर पूजन एवं श्रावणी पर्व की ऋचाएं पूरी कराई जाएंगी। इसके लिए सभी लोग अपने घरों में समय पर मोबाइल एप पर जुड़ेंगे।
यह करें तैयारी
घर में पूजन थाली में दूध, दही, शहद, शक्कर, गंगाजल, गोमूत्र, गाय का गोबर, घी, कुशा, दूर्वा, भस्म, मंदिर की मिट्टी, जनेऊ जोड़ा, रोली, चावल, हल्दी, अबीर, गुलाल, सिंदूर, चंदन, इत्र, कलावा, नरियल, गोल सुपारी 5, गोरी गणेश, दीपक े रख लें। पवित्रीकरण आचमन, आसन शुद्धि, पवित्री धारण, शिखा बंधन, स्वस्ति वाचन, संकल्प, हिमाद्रि संकल्प, पंचगव्य प्रासन, दसविधि स्नान, गणेश, कलश, भूमि, वेद माता, गायत्री गौरी पूजन , यज्ञोपवीत के संस्कार, ब्रह्म गाँठ, यज्ञोपवीत धारण कराया जाएगा।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें