पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Student Borrowed 5 Rupees From Neighbor For Topup In Pubg And Free Fire Game, If Unable To Repay, Then Strangled To Death

पबजी और फ्री फायर की लत में छात्र की हत्या:टॉपअप के लिए 5 हजार रुपए लिए थे, लौटा नहीं पाया तो पड़ोसी ने अपहरण किया और गला दबाकर मार डाला

उज्जैन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
17 साल के रितेश की लाश BCI की जर्जर कॉलोनी में मिली थी। - Dainik Bhaskar
17 साल के रितेश की लाश BCI की जर्जर कॉलोनी में मिली थी।

मध्य प्रदेश में पबजी और फ्री फायर गेम की लत एक छात्र की हत्या की वजह बन गई। उज्जैन के नागदा के युवक ने गेम के टॉपअप के लिए पड़ोसी युवक से 5 हजार रुपए उधार लिए थे। जब रुपए नहीं लौटा सका तो पड़ोसी से झगड़ा हो गया। मामला इतना बढ़ा कि पड़ोसी ने उसका अपहरण किया और गला दबाकर हत्या कर दी।

उसका क्षत-विक्षत शव शनिवार को मिला था। पुलिस ने रविवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। पुलिस आरोपी युवक का नाम नहीं बता रही है।

पुलिस ने बताया कि शिव कॉलोनी बेरछा रोड के रहने वाले रितेश गुर्जरवाड़िया (17) 11वीं का छात्र था। उसे पबजी और फ्री फायर गेम की आदत थी। रितेश ने गेम के लेवल पार करने के लिए टॉपअप कराया था। इसके लिए पड़ोसी युवक से 5 हजार रुपए उधार लिए थे। रितेश की लाश बिडला ग्राम थाना क्षेत्र में जर्जर पड़ी BCI कॉलोनी में मिली थी।

11वीं के छात्र की अपहरण के बाद हत्या: उज्जैन के नागदा में कराटे क्लास जाने का कहकर घर से निकाला था लड़का, 20 घंटे बाद मिला शव; एक लाख रुपए फिरौती मांगी गई थी

आरोपी ने फोन कर मांगी 1 लाख रुपए की फिरौती
पुलिस के मुताबिक रितेश शुक्रवार रात 7 बजे घर पर कराटे क्लास जाने की बात कहकर दोस्तों के साथ निकला था। रात करीब 9:30 बजे उसके पिता राधेश्याम गुर्जरवाड़िया के मोबाइल पर रितेश के मोबाइल नंबर से कॉल आया। यह कॉल करने वाला कोई दूसरा व्यक्ति था। उसने रितेश के अपहरण की बात कहते हुए एक लाख रुपए फिरौती मांगी।

इसके बाद परिवार वालों ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस मामले में जांच कर रही थी। इस बीच शनिवार शाम को राधेश्याम के मोबाइल पर किसी अननोन नंबर से कॉल आया। कॉलर ने कहा कि ‘तुम्हारे बेटे की लाश BCI कॉलोनी में पड़ी है, ले जाओ।’ यह सुनकर पिता के होश उड़ गए। वह तुरंत पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। यहां रितेश की क्षत-विक्षत लाश पड़ी थी।

एसपी सत्येंद्र शुक्ल ने बताया कि रितेश ऑनलाइन गेम पबजी और फ्री फायर गेम के लेवल पार करने के लिए टॉपअप करवाता था। इसी के लिए उसने पड़ोसी युवक से 5 हजार रुपए उधार लिए थे। वह रुपए नहीं चुका पा रहा था। इसी कारण शुक्रवार रात आरोपी और रितेश के बीच झगड़ा हुआ। आरोपी ने रितेश का गला दबा दिया। फिलहाल आरोपी से पूछताछ की जा रही है।​​​​​​

क्या है ऑनलाइन गेम में टॉपअप का खेल
पबजी और फ्री फायर गेम्स में खेलते वक्त लेवल पार करने और मेंबरशिप लेने के साथ लेवल, स्किन, गन्स, वेपन्स, कॉस्ट्यूम आदि के लिए टॉपअप करवाना पड़ता है। इनमें छोटे टॉपअप का चार्ज 500 रुपए से लेकर 4000 रुपए तक होती है। लेवल बढ़ाने के लिए बच्चे गेम की लत में पड़ जाते हैं।

खबरें और भी हैं...