पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ऑनलाइन कार्यशाला:जंगल के पेड़-पौधों से कीटनाशक व जैविक तत्व बनाना सिखाएं

उज्जैन12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मप्र और छग के कृषि विज्ञान केंद्रों की 27वीं ऑनलाइन जोनल कार्यशाला डायरेक्टर अटारी जबलपुर डॉ. अनुपम मिश्रा और वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. एसआरके सिंह के मार्गदर्शन में हुई। कृषिविदों ने भागीदारी कर नवाचार और जैविक खेती के प्रयोगों के बारे में चर्चा की। 29 से 31 जुलाई तक तीन दिनी कार्यक्रम में कई किसानों ने सहभागिता की।
इन विषयों पर अनुभव साझा किए
जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए किसानों को अपेक्षित कृषि आदान उनके पशुधन और खेतों व गांवों के आसपास जंगलों में कई प्रकार के पेड़ पौधे से जैविक सूक्ष्म तत्व और कीटनाशक रसायन बनाने के लिए किसानों को कृषि विज्ञान केंद्रों से तकनीकी प्रशिक्षण देना चाहिए।
जैविक खेती में पशुधन विशेष रूप से देशी गायों की भूमिका होती है। केंद्र सरकार के कृषि मंत्रालय और नाबार्ड को मिलकर ड्राई डेयरी की कार्य योजना पर चिंतन करना चाहिए (केवल शेड बनाने में अनुदान)। ड्राई डेयरी का मुख्य उत्पाद दूध न होकर, गोबर और गोमूत्र होगा, जिससे किसान अपने खेत पर ही वांछित जैविक आदान बना सके।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें