पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • The Collector Said That All The Stop Dams And Barrage Gates Of The District Should Be Closed, The Rainfall In The District Is 62 Mm Less Than The Average, The Dam Also Dried Up.

अवर्षा के कारण चेता प्रशासन:कलेक्टर ने कहा जिले के सभी स्टॉप डेम व बेराज के गेट बंद कर दें, जिले में औसत से 62 मिमी कम वर्षा, बांध भी सूखे

8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उज्जैन पिछले चौबीस घंटे में उज्जैन जिले में 4.5 मिमी वर्षा दर्ज की गई है। इसमें खाचरौद तहसील में 29 मिमी और तराना तहसील में 7 मिमी वर्षा दर्ज की गई है। एक जून से लेकर अभी तक उज्जैन जिले में औसत 844.4 मिमी वर्षा दर्ज की जा चुकी है। उज्जैन जिले का वार्षिक वर्षा का औसत 906.2 मिमी है।

उज्जैन में इस बारिश कमजोर ही रही है। लगातार पूर्वानुमान के बावजूद शहर में बारिश अभी औसत आंकड़े तक नहीं पहुंच पाई है। इससे जल संकट का खतरा मंडराने लगा है। निगम ने दो दिन छोड़कर जल सप्लाई का प्रस्ताव पहले ही तैयार कर लिया था। इसके चलते कलेक्टर आशीषसिंह ने निर्देश जारी कर कहा है कि जिले के सभी स्टॉपडेम, बेराज के गेट बंद कर दें। उन्होंने 25 सितंबर के पहले गेट बंद करने के बाद सूचना भी देने को कहा है।

हालांकि नगर निगम ने इसके पहले ही अब शहर के आसपास के कुएं व बावड़ियों पर को कब्जे में लेना शुरू कर दिया है। ताकि जरुरत पड़ने पर यहां से टैंकरों के माध्यम से जल सप्लाय किया जा सके। नगर निगम शहर के 120 कुएं व बावड़ियों को अपने कब्जे में लेगा।

कहां कितना पानी -
गंभीर बांध - इसकी क्षमता 2250 एमसीएफटी की है। इसमें से अभी 406 एमसीएफटी पानी है। इसमें से केवल 306 एमसीएफटी पानी ही इस्तेमाल किया जा सकता है। करीब 100 एमसीएफटी पानी डेड स्टोरेज का होता है। यहां से रोजाना 3 एमसीएफटी पानी शहर को सप्लाय किया जाता है।
गऊघाट स्टॉप डैम - 225 एमसीएफटी पानी शेष है।
उंडासा तालाब - आधा एमसीएफटी पानी शेष है।

खबरें और भी हैं...