पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ऑनलाइन बुकिंग:महाकाल की पहली सवारी कल ग्रीन कॉरिडोर के बीच निकलेगी

उज्जैनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सवारी मार्ग व रामघाट पर बैरिकेडिंग, उस ओर आने वाले रास्ते भी बंद किए

महाकालेश्वर की श्रावण की पहली सवारी कल सोमवार को निकलेगी। इसी दिन से श्रावण शुरू हो रहा है। प्रशासन ने महाकालेश्वर मंदिर में एक दिन पहले ऑनलाइन बुकिंग कराने वालों को दर्शन कराने की व्यवस्था की है लेकिन सवारी के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को अनुमति नहीं है। सवारी के लिए मार्ग छोटा कर ग्रीन कॉरिडोर बनाया जा रहा है। सवारी मार्ग पर आने वाले रास्तों को बंद करने के लिए भी काम शुरू हो गया है।  श्रावण में भगवान महाकाल की 5 और भादौ में 2 कुल 7 सवारियां निकलेंगी। आखिरी सवारी प्रमुख होगी। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रशासन ने सवारी में श्रद्धालुओं को प्रतिबंधित किया है। इसके लिए सवारी मार्ग के एक किमी हिस्से में सभी मार्गों को ब्लॉक किया जाएगा। सवारी के लिए मार्ग के दोनों तरफ बैरिकेडिंग कर ग्रीन कॉरिडोर बनाया जा रहा है। इसमें सवारी के प्रोटोकॉल में तैनात पुजारी व अन्य ही प्रवेश करेंगे। इसी के पास एक ओर बैरिकेडिंग मार्ग होगा, जिसमें मीडिया और अन्य अनुमति धारक अधिकारी-कर्मचारी व्यवस्था के लिए तैनात होंगे। दो हिस्सों में बैरिकेडिंग का काम शुरू हो गया है। आईजी राकेश गुप्ता के अनुसार सवारी के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाया जा रहा है। इसमें सवारी के प्रोटोकाल के अलावा कोई प्रवेश नहीं करेगा। अन्य अनुमति धारकों के आने-जाने के लिए दूसरा बैरिकेडिंग मार्ग होगा। सवारी मार्ग की ओर आने वाले सभी रास्ते बंद किए जाएंगे। 

सवारी मार्ग : सवारी महाकाल मंदिर से बड़ा गणेश, हरसिद्धि चौराहा, सिद्धाश्रम के सामने से होकर रामघाट पहुंचेगी। यहां घाट पर पूजन अर्चन होगा। इसके बाद सवारी रामानुज कोट, पाल, हरसिद्धि चौराहा होकर बड़ा गणेश के सामने महाकाल मंदिर लौटेगी। 

सवारी मार्ग के सभी रास्ते बंद
सवारी मार्ग की तरफ आने वाले रास्तों को रोकने का काम शुरू हो गया है। रामघाट पर भी सवारी के पूजन के लिए बैरिकेडिंग शुरू कर दी है। मंदिर प्रबंध समिति के अध्यक्ष एवं कलेक्टर आशीष सिंह ने बाहरी और शहरी श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि सवारी में किसी को भी प्रवेश नहीं दिया जाएगा, श्रद्धालु घर पर ऑनलाइन सुविधा और लाइव प्रसारण के माध्यम से सवारी का दर्शन करें। सवारी की व्यवस्था के लिए कलेक्टर ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दायित्व भी सौंपे हैं। सवारी में निकलने वाले हाथी का स्वास्थ्य परीक्षण करने के लिए पशु चिकित्सा विभाग को जिम्मेदारी दी गई है। 

ऑनलाइन बुकिंग फुल
महाकालेश्वर के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को महाकालेश्वर मंदिर के मोबाइल एप को डाउनलोड करना होगा। इसमें जनरल दर्शन टिकट के ऑप्शन पर जाकर बुकिंग कराना होगी। शनिवार की स्थिति में एप पर सोमवार तक की बुकिंग फुल हो चुकी है। हालांकि प्रशासन ने कहा है कि श्रावण में श्रद्धालुओं को परमिशन 10 हजार तक कर सकते हैं।  
4 बजे शुरू होगी सवारी: महाकालेश्वर मंदिर के सभा मंडप में पूजन के बाद शाम 4 बजे सवारी शुरू होगी। प्रशासन ने कहा है कि सभामंडप में भी केवल अनुमति धारक ही प्रवेश कर सकेंगे। सवारी में पुलिस बैंड, घुड़सवार सेना, सशस्त्र बल, चोबदार, पालकी के साथ पुजारी शामिल होंगे।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें