• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • The Inspector Was Writing On The True Collar, This Trapped The Shopkeeper, Now The Police Is Investigating

इंगोरिया टीआई के नाम से लगाया फोन, मांगे 10 हजार:ट्रू कॉलर पर दरोगा लिखा आ रहा था इससे फंसा दुकानदार, अब जांच कर रही पुलिस

उज्जैन6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • राजस्थान के साइबर ठगों ने लगाया था फोन, अब जांच में जुटी पुलिस

पुलिस के नाम पर पैसा मांगने पर उज्जैन के एक युवक ने पैसा ऑनलाइन ट्रांसफर भी कर दिया। मामले की जानकारी टीआई को जैसे ही लगी उन्होंने साइबर सेल को एक्टिव किया और कॉल डिटेल मांगी। पता चला कि फोन राजस्थान से किए गए थे। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

उज्जैन के इंगोरिया थाना टीआई पृथ्वीसिंह खलाटे के नाम पर क्षेत्र के लोगों के पास फोन पहुंचे। इनमें से कुछ कारोबारी व सरपंच भी हैं। टीआई खलाटे ने बताया कि ग्राम सजावता के व्यवसायी अमृतलाल ने सरपंच तेजलाल के साथ आकर लिखित शिकायत की है। पीड़ित युवक के पास जिस नंबर से फोन आया था। फोन लगाने वाले ने कहा कि मैं इंगोरिया टीआई बोल रहा हूं। मेरी गाड़ी खराब हो गई है। रास्ते में हूं। मेरे खाते में 10 हजार रुपए ट्रांसफर कर दो।

सजावता के सरपंच के पास आए इस फोन के आधार पर उनके पास ही बैठे युवक अमृतलाल ने तुरंत पैसे ट्रांसफर कर दिए। अमृतलाल का ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करने का ही काम काज है। उसने बताया कि ट्रू कॉलर पर दरोगा लिखा आने से लगा कि फोन टीआई ने ही लगाया है। फिर वे आवाज भी नहीं पहचानते थे। इस वजह से पैसा ट्रांसफर कर दिया। जब उसे लगा कि वह ठगा गया है तो तत्काल थाने आकर लिखित शिकायत की है।

जांच के बाद दर्ज करेंगे केस -
इंगोरिया टीआई पृथ्वीसिंह खलाटे ने बताया कि मैंने किसी को फोन लगाकर कोई पैसे की मांग नहीं की। मेरे पास तो सरपंचों के नंबर भी नहीं हैं। पीड़ित युवक की शिकायत मिलने के बाद साइबर टीम को सूचना दे दी है। वहां से पता चला कि फोन करने वाले बदमाश राजस्थान के हैं। साइबर सेल से रिपोर्ट मिलने के बाद केस दर्ज किया जाएगा।