पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • The Rituals After Death And The Garuda Purana Are Also Being Done Online, For The First Time, All The Methods Are Being Completed By Video Call.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना काल में मुक्ति और आत्मशांति का तरीका भी बदला:मृत्यु के बाद का कर्मकांड और गरुड़ पुराण भी पहली बार ऑनलाइन, वीडियो कॉल से पूरी हो रही सारी विधि

उज्जैनएक दिन पहलेलेखक: शरद पंड्या
  • कॉपी लिंक
मंगलनाथ रोड स्थित मंदिर में जाप करते पंडित। - Dainik Bhaskar
मंगलनाथ रोड स्थित मंदिर में जाप करते पंडित।

कोराेना ने सबकुछ बदल दिया है। पहली बार दिवंगतों की आत्मशांति, मुक्ति और मोक्ष के लिए होने वाला कर्मकांड व गरुड़ पुराण भी ऑनलाइन किया जा रहा है। इसके दो कारण हैं, पहला संक्रमण का डर और दूसरा लॉकडाउन। उज्जैन में शिप्रा तट पर हर तरह के पूजन-पाठ पर पाबंदी है। ऐसे में देशभर से लोग कॉल कर सारी विधियां वीडियो कॉल पर करवा रहे हैं।

इन लोगों के सवा लाख महामृत्युंजय जाप की पूर्णाहुति होने पर ऑनलाइन दक्षिणा ली जा रही है। पं. अमर त्रिवेदी डब्बावाला ने बताया कि अप्रैल के पहले जहां प्रतिदिन एक या कभी एक भी फोन नहीं आते थे, अप्रैल माह से अब तक रोज 5 से 7 फोन कर्मकांड व महामृत्युंजय जाप के लिए आ रहे हैं। मार्च में जहां 19 फोन आए तो अप्रैल में लगभग 138 फोन आए।
इस तरह अप्रैल में करीब सात गुना
काम बढ़ गया है। ऑक्सीजन व वेंटिलेटर पर होने पर कई परिजन मरीज की पत्रिका वाट्सएप व ई-मेल कर स्वास्थ्य की जानकारी भी ले रहे हैं।

नासिक के साथ नर्मदा घाट पर भी करवा रहे कर्मकांड

पं. मीतेश पांडे ने बताया कि उज्जैन, नासिक के साथ ही नर्मदा के घाट पर भी कर्मकांड करवाया जा रहा है। उज्जैन से कसरावद पहुंचा तो यहां रोज ही 10-20 व्यक्ति कर्मकांड का पूछने आ रहे थे। उन्हें स्थानीय पंडितों से करवाने की सलाह पर उन्होंने कहा कि यहां के पंडित सभी व्यस्त चल रहे हैं। महामृत्युंजय के लिए भी पुणे, दिल्ली, मुंबई, गुजरात सहित इंदौर-भोपाल से लगभग रोज ही फोन आ रहे हैं। इसमें 4-5 गुना बढ़ोतरी हुई है।

घर में पाठ; दक्षिणा भी ऑनलाइन ले रहे

फिलहाल मंदिरों में पूजन, जाप आदि बंद हैं। इसके लिए कई ब्राह्मणों से उनके घर या उनके आसपास के छोटे मंदिरों में महामृत्युंजय जाप करवाया जा रहा है। पं. सुधीर पंड्या के मुताबिक मेरे सान्निध्य में जाप करने वाले पंडितों ने फिलहाल दक्षिणा भी बढ़ा दी, जो ऑनलाइन दी जा रही है। पूर्व में जहां एक हजार माला के 50 से 75 रुपए थे, वहीं अब 100 रुपए सेे हजार कर दिए हैं। पं. महेश अग्निहोत्री, पं. विपिन शर्मा, पं. घनश्याम शर्मा आदि का कहना है कि पंडितों के लिए भी महंगाई बढ़ी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें