निर्माण होगा:राष्ट्रपति जिन मार्गों से निकलेंगे उनका सुधार और निर्माण होगा, अभी राष्ट्रपति के आवागमन का रुट तय नहीं हुआ

उज्जैन2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • निगम ने सड़कों के सुधार और निर्माण के लिए ढाई करोड़ रुपए का टेंडर निकाला है

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 29 मई को शहर आएंगे। वे जिन मार्गों से निकलेंगे, उनका सुधार और निर्माण किया जाएगा। महामहिम की इस यात्रा का फायदा शेष शहर को भी होगा। शहर की व्यस्त सड़कों का भी सुधार कराया जाएगा। राष्ट्रपति यहां कालिदास अकादमी में होने वाले आयुर्वेद महासम्मेलन के महाधिवेशन में शामिल होने आएंगे। वे महाकालेश्वर मंदिर दर्शन करने जाएंगे। इसके अलावा वे स्वसहायता समूह प्रदर्शनी का भी अवलोकन करेंगे।

प्रशासन द्वारा राष्ट्रपति के आगमन को लेकर तैयारियां की जा रही हैं। राष्ट्रपति के महाकाल मंदिर और कालिदास अकादमी आने-जाने वाले मार्गों के सुधार लिए नगर निगम को जिम्मेदारी दी है। इसके लिए निगम ने 2.5 करोड़ रुपए का टेंडर निकाला है। टेंडर 18 को खुलेंगे। अधीक्षण यंत्री जीके कठिल के अनुसार अभी राष्ट्रपति के आवागमन का रुट तय नहीं हुआ है। रूट तय होने के बाद निरीक्षण कर मार्गों का सुधार और निर्माण कराया जाएगा।

नागरिकों को भी मिलेगा फायदा

निगम ने सड़कों के सुधार और निर्माण के लिए ढाई करोड़ रुपए का टेंडर निकाला है। इसमें राष्ट्रपति के रूट पर 50 लाख रुपए खर्च होने का अनुमान है। दो करोड़ रुपए से शहर की अन्य सड़कों का सुधार और निर्माण होगा। बारिश के पहले उन सड़कों को सुधारा जाएगा जहां नागरिकों को आवागमन में दिक्कत आ रही है।

खबरें और भी हैं...