पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • The Royal Ride Of Mahakal Will Come Out Today, Preparations Are In The Last Phase, The Roads Will Be Closed At 1 Pm, Section 144 Applied

महाकाल की 7वीं शाही सवारी:वापस महाकाल मंदिर पहुंची सवारी; रामघाट पर केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने किया अभिषेक

उज्जैन22 दिन पहले
सवारी में भक्तों के शामिल होने की अनुमति नहीं है।

भगवान महाकाल की शाही सवारी शाम 4 बजे शुरू हुई। सवारी यहां से रामघाट पहुंची। यहां केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जलाभिषेक किया। इसके बाद सवारी हरसिद्धि मंदिर पहुंची। यहां शिव-शक्ति का मिलन हुआ। यहां से सवारी 6:10 मिनट पर वापस महाकाल मंदिर पहुंची। भगवान महाकाल मन महेश व चंद्रमौलेश्वर रूप में भक्तों को दर्शन दे रहे हैं। सवारी में चुनिंदा लोग ही मौजूद हैं। तय मार्ग से निकलकर सवारी वापस महाकाल मंदिर पहुंची। सवारी निकलने से पहले भगवान महाकाल की पूजा-श्रंगार व आरती की गई।

शाही सवारी के मौके पर पारंपरिक उद्घोषक, तोपची, सलामी गार्ड, घुड़सवार दल, संगीतमय धुन के साथ पुलिस बैंड, पुराने युग का आभास कराती नगाड़ों की थाप, गूंजती शहनाई, पुजारी, पुरोहित और अधिकारी आदि सवारी के साथ चल रहे हैं। सवारी में भक्तों के शामिल होने की अनुमति नहीं है।

ड्रोन से ली गई महाकाल की शाही सवारी की फोटो।
ड्रोन से ली गई महाकाल की शाही सवारी की फोटो।
रामघाट पर केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने रामघाट पर रामघाट का अभिषेक किया।
रामघाट पर केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने रामघाट पर रामघाट का अभिषेक किया।
पालकी द्वार।
पालकी द्वार।

शाही सवारी के मौके पर केंद्रीय नागरिक उड्‌डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भी यहां पहुंच गए। वे दोपहर 3.25 बजे इंदौर एयरपोर्ट से उज्जैन के लिए रवाना हुए। वे करीब आधे घंटे यहीं रुकने के बाद शाम 5 बजे इंदौर के लिए निकल जाएंगे।

सलामी गार्ड, ये सवारी के आगे चलेंगे।
सलामी गार्ड, ये सवारी के आगे चलेंगे।

भगवान श्री महाकालेश्वर की सवारियों के क्रम में सातवीं सवारी (शाही सवारी) सोमवार को निकलने वाली सवारी में भगवान श्री चन्द्रमौलीश्वर चांदी की पालकी में विराजित होकर संपूर्ण राजसी ठाट-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकलेंगे।

सवारी शुरू होने से पहले पुलिस बैंड ने शिव महिमा की प्रस्तुति दी।
सवारी शुरू होने से पहले पुलिस बैंड ने शिव महिमा की प्रस्तुति दी।

मंदिर परिसर को भी फूलों के बंदनवार, तोरण से सजाया जा रहा है। बाबा श्री महाकालेश्वर के नगर भ्रमण के दौरान संपूर्ण सवारी मार्ग में फूलों व रंगों से रंगोलियां, जगह-जगह पर आतिशबाजी, रंग-बिरंगे ध्वज, छत्रियां आदि से सजाया गया।

धारा 144 लागू, रास्ते दोपहर 1 बजे से रास्ते बंद -
महाकाल की शाही सवारी के दौरान दोपहर 1 बजे से ही मंदिर की ओर आने वाले सभी रास्तों को बंद कर दिया गया है। वहीं शाम 7 बजे के बाद महाकाल के दर्शन हो सकेंगे। क्षेत्र में धारा 144 लगा दी गई है।

लाइव प्रसारण के लिए यहां क्लिक करें -
मंदिर प्रबंध समिति की वेबसाइट www.mahakaleshwar.nic.in और फेसबुक पेज पर शाही सवारी का सीधा प्रसारण किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...