• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • The Woman's Hands, Feet And Mouth Were Tied In The Dark Room, The Police Rescued Her, A Case Was Registered Against The Unknown

कहानी फिल्मी है!:उज्जैन की पोहा फैक्टरी के अंधेरे कमरे में हाथ-पैर बंधे और मुंह में कपड़ा ठूंसी हुई महिला पड़ी थी; और प्रकट हो गई पुलिस..

उज्जैनएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

उज्जैन में एक फिल्मी कहानी सामने आई है। पोहा फैक्टरी में बने एक कमरे में महिला के हाथ-पैर बांधकर पटक दिया गया। उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया गया। फैक्टरी में बाहर से ताला लगा दिया गया। ऐसा करने वालों ने वहां मोबाइल भी छोड़ दिया। रात को डायल 100 मौके पर पहुंची और महिला को छुड़ाकर थाने ले आई। महिला ने डर के कारण किसी का भी नाम लेने से इनकार कर दिया। हालांकि पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

घटना रविवार-सोमवार रात की है। वीडियो अब इसका सामने आया है। शहर के नागझिरी क्षेत्र के उद्योगपुरी में बंटी की पोहा फैक्ट्री है। महिला माला का पति भेरूलाल पोहा फैक्ट्री में काम करता था। कुछ महीने पहले भेरूलाल की मौत हो गई थी। इसके बाद फैक्ट्री संचालक ने महिला को अपनी फैक्ट्री में रहने के लिए दिया हुआ कमरा खाली करने को कहा, लेकिन महिला ने नहीं किया। पुलिस को इसी कमरे में महिला बंधी हुई मिली थी।

एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह ने बताया कि महिला और फैक्ट्री संचालक दोनों के बीच दो महीने से विवाद चल रहा था। दोनों ने एक-दूसरे के खिलाफ आवेदन भी दे रखा था। रविवार और सोमवार की दरमियानी रात को पुलिस ने सूचना मिलने पर महिला को छुड़वाया। हालांकि महिला ने किसी का भी नाम नहीं बताया है, लेकिन पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज लिया है। एएसपी ने कहा हम पूरे मामले की जांच कर रहे हैं।

पुलिस को कहानी पर शक
पुलिस ने संवदेशनीलता को देखते हुए महिला छुड़ा तो लिया है। पुलिस मौके पर पहुंची तो महिला ने हाथ-पैर बंधे होने और मुंह में कपड़ा ठूंसा गया था। वहां मोबाइल फोन पड़ा था। महिला वहां पर पड़ी है, इसकी जानकारी भोपाल में डायल 100 को किसने दी। महिला आरोपियों के नाम क्यों नहीं बता रही है। मामले की तफ्तीश कर रही महिला डेस्क प्रभारी चांदनी गौड़ ने कहा कि महिला की काउंसलिंग की गई, लेकिन उसने आरोपी का नाम नहीं बताया इसलिए अज्ञात पर मामला दर्ज किया है। जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

लेकिन सूत्रों के मुताबिक पुलिस के मुखबिरों ने आला अधिकारियों को कुछ अलग ही इनपुट दिया है। इसलिए पुलिस जल्दबाजी में किसी पर भी नामजद केस दर्ज नहीं कर रही है। सबकुछ सामने होते हुए भी पुलिस ने अज्ञात पर केस दर्ज किया है। इसमें दो प्रभावी लोगों के नाम सामने आ रहे हैं।