• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • The Work Of The Second Largest Amul Factory Of The State Has Started In Ujjain, After 18 Months, 5 Lakh Liters Of Milk Will Be Produced Daily.

अमूल की फैक्टरी का काम शुरू:उज्जैन में प्रदेश की दूसरी बड़ी अमूल की फैक्टरी का काम शुरू, 18 माह बाद रोज 5 लाख लीटर दूध का उत्पादन होगा

उज्जैन8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नए प्लांट का थ्री-डी डिजाइन - Dainik Bhaskar
नए प्लांट का थ्री-डी डिजाइन
  • गृहमंत्री अमित शाह वर्चुअल कर सकते हैं औपचारिक भूमिपूजन
  • 81.04 हेक्टेयर वाली विक्रम उद्योगपुरी में 800 से 9000 वर्गफीट के 178 प्लॉट हैं

विक्रम उद्योगपुरी में नए उद्योगों के लगने की शुरुआत हो गई है। सबसे पहले अमूल की फैक्टरी का काम शुरू हुआ है। 30 मई को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह वर्चुअल औपचारिक भूमिपूजन करने की संभावना है। 18 महीने में फैक्टरी तैयार हो जाएगी। इसके बाद उत्पादन शुरू हो जाएगा। इस फैक्टरी से 300 से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलने की संभावना है। विक्रम उद्योगपुरी को स्मार्ट सिटी की तरह एकेवीएन ने विकसित किया है।

अत्याधुनिक सुविधाओं वाली इस उद्योगपुरी में कई प्रयासों के बाद भी उद्योग नहीं आ रहे थे। यहां उज्जैन के उद्योगपति आनंद बांगड़ व अमूल ने जमीन ली है। यहां केंद्र सरकार के डिवाइस पार्क की घोषणा भी हुई है। सबसे पहले अमूल ने यहां काम शुरू किया है। अमूल की एक छोटी यूनिट नगर में पहले से है। लेकिन बड़े स्तर पर उत्पादन के लिए अमूल विक्रम उद्योगपुरी में 400 करोड़ रुपए से नया प्लांट लगा रहा है। यहां फैक्टरी का काम शुरू हो गया है। 18 महीने में फैक्टरी का काम पूरा हो जाएगा। कलेक्टर आशीष सिंह के अनुसार 30 मई को गृहमंत्री अमित शाह इसका वर्चुअल भूमिपूजन करेंगे। गौरतलब है कि शाह का कार्यक्रम अप्रैल में भी तय हुआ था तथा कार्ड तक छप गए थे लेकिन कार्यक्रम निरस्त हो गया था। अभी फिर 30 मई को गुजरात से वर्चुअल भूमिपूजन की जानकारी मिली है।

300 से ज्यादा लोगों को फैक्टरी में मिलेगा रोजगार

नए प्लांट में 5 लाख लीटर दूध का प्रतिदिन उत्पादन होगा। इसके अलावा आइस्क्रीम, लस्सी, दही, पनीर आदि भी यहां बनेंगे। उज्जैन में उत्पादित यह सामग्री प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में सप्लाई होगी। यहां 300 से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलने की संभावना है। इसके अलावा अन्य तरह से भी लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे।

178 प्लॉट वाली उद्योगपुरी अब गुलजार होगी

81.04 हेक्टेयर वाली विक्रम उद्योगपुरी में 800 से 9000 वर्गफीट के 178 प्लॉट हैं। उद्योगपुरी में अंडरग्राउंड सीवरेज, विद्युत व पेयजल लाइन है। सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट और केमिकल युक्त गंदे पानी की सफाई के लिए खास इंतजाम हैं। पेयजल के लिए टंकी और फोरलेन सड़कों के साथ 24 घंटे बिजली व पानी की व्यवस्था की गई है। अमूल द्वारा यहां काम शुरू कर देने के बाद अब अन्य फैक्टरियों का काम भी शुरू होने की उम्मीद है। केंद्र सरकार के डिवाइस पार्क के लिए एकेवीएन के पास 100 से ज्यादा आवेदन आ चुके हैं। इसके अलावा कर्नाटका एंटीबॉयोटिक्स ने भी यहां जमीन के लिए प्रस्ताव दे रखा है। यह भी केंद्र सरकार का उपक्रम है। कर्नाटका एंटीबॉयोटिक्स के साथ उससे जुड़ी अन्य इकाइयां भी आने की संभावना है।

खबरें और भी हैं...