• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • There Is No Benefit If Compassionate Appointment Is Taken, Even If You Commit Suicide Due To Corona Infection, You Will Not Get Money, Two Doctors Sign Necessary On RTPCR

कोरोना से मौत पर 50 हजार मिलने की गाइडलाइन:अनुकंपा नियुक्ति ली तो लाभ नहीं, संक्रमण में आत्महत्या की तो भी नहीं मिलेगा पैसा, रिपोर्ट पर दो डॉक्टर साइन जरूरी

उज्जैन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु होने पर सरकार द्वारा 50 हजार रुपए की अनुग्रह राशि दी जाएगी। सरकार ने इसके लिए नियम भी जारी कर दिए हैं। केंद्र सरकार द्वारा जारी नियमों में कहा गया है कि प्रथम हकदार के ना होने पर अविवाहित संतान को यह पैसा दिया जाएगा। ऐसा न होने की स्थिति में मृतक के माता-पिता को राशि दी जाएगी।

यही नहीं, यदि कोरोना संक्रमित रहते हुए यदि पीड़ित ने आत्महत्या की या उसकी हत्या हो गई हो या एक्सीडेंट में मौत हो गई हो, उन्हें भी लाभ नहीं दिया जाएगा। इस संबंध में कलेक्टर आशीषसिंह ने अधिकारियों कर्मचारियों की ड्यूटी भी लगा दी है।

कलेक्टर आशीषसिंह ने बताया कि ऐसे व्यक्ति अथवा शासकीय कर्मचािरयों के परिजन जिन्हें मुख्यमंत्री कोविड-19 कल्याण योजना, मुख्यमंत्री कोविड-19 अनुकंपा नियुक्ति योजना अथवा मुख्यमंत्री कोविड-19 विशेष अनुग्रह योजना का लाभ दिया गया है अथवा जो इन योजनाओं में लाभ लेने के लिए पात्र हैं। वह अनुग्रह राशि के पात्र नहीं होंगे।

बृहस्पति भवन में जमा होंगे आवेदन
कोविड-19 संक्रमण से मृत्यु होने पर अनुग्रह राशि 50 हजार रु दिए जाने के संबंध में मृतकों के परिजनों से आवेदन लिए जाना हैं। कलेक्टर आशीषसिंह ने बृहस्पति भवन में नायब तहसीलदार भूमिका जैन सहित पांच कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई है। इनसे आवेदन लेने के साथ जमा करने की भी जिम्मेदारी दी गई है।

ये है चेकलिस्ट -
- निर्धारित प्रारूप में आवेदन पत्र पूरी तरह भरा होना चाहिए।
- मृत्यु प्रमाण पत्र एवं आईडी प्रूफ प्रमाणित सलंग्न करना होगा।
- वारिस का आईडी प्रूफ प्रमाणित संलग्न होगा।
- मृतक एवं दावेदार के बीच संबंध प्रमाण पत्र प्रमाणित संलग्न होना।
- आरटीपीसीआर या RAT जांच रिपोर्ट अथवा चिकित्सक की जांच रिपोर्ट पर दो चिकित्सकों के हस्ताक्षर होना जरूरी।
- रजिस्टर्ड चिकित्सक द्वारा फॉर्म 4 या फॉर्म 4A में जारी एमसीसीडी सलंग्न होना चाहिए।
- आवेदक का आधार लिंक बैंक खाता, पासबुक की प्रमाणित प्रति।

उज्जैन में 171 मौत -
उज्जैन जिले में कोरोना संक्रमण से 171 मौतें अधिकृत रूप से दर्ज हैं। लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं जिनके परिजन उन्हें उपचार के लिए इंदौर या कहीं और ले गए थे। इसके चलते यह आंकड़ा कम ज्यादा हो सकता है।