• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • To Rescue The Poha Owner, The Judge, SP, ASP, Media Told Everyone In The Pocket, If The Deal Was Not Done, Then Opened A Front Against Him.

दलाली करने वाले BJP नेता का AUDIO:उज्जैन के महिला किडनैपिंग केस में आरोपी को बचाने का दावा; शंकर अहिरवार बोला- TI को सेट करेंगे, DM से पट्टा दिलवाएंगे

उज्जैन2 महीने पहले
  • उज्जैन में पोहा फैक्ट्री में महिला के हाथ-पैर बंधी हालत में मिलने का मामला

उज्जैन में बीजेपी नेता और अजा मोर्चे के कार्यकारी समिति के सदस्य शंकर अहिरवार के सनसनीखेज 6 ऑडियो वायरल हुए हैं। जिसमें पोहा फैक्ट्री मालिक की परिचित से 'डील' पक्की करने के लिए उसने जज, एसपी, एडिशनल एसपी, कलेक्टर समेत बीजेपी के प्रदेश मीडिया प्रभारी तक को जेब में बता दिया।

पोहा फैक्ट्री के परिवार वालों का आरोप है कि बीजेपी नेता अहिरवार पहले हमारी ओर से समझौते की बात करता रहा। जब उसे मुंह मांगी रकम नहीं मिली, तो उसने पीड़ित महिला के पक्ष में रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर बंटी बिंदल को गिरफ्तार करने की मांग कर डाली।

सोमवार को पोहा फैक्ट्री मालिक बंटी बिंदल के परिवार के सदस्यों ने बीजेपी नेता शंकर अहिरवार पर आरोप लगाया कि पूरे मामले में अहिरवार गुमराह करता रहा है। 25 लाख रुपए लेकर पीड़ित महिला से समझौता करने का दबाव बनाता रहा। जब हमने रुपए देने में असमर्थता जताई, तो उसने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पीड़िता के पक्ष में बोलना शुरू कर दिया। आरोपी बंटी बिंदल को जल्द गिरफ्तार करने की मांग करने लगा।

बिंदल के परिवार ने आरोप लगाया कि अहिरवार अपने राजनीतिक कद का फायदा उठाकर पहले परिवार की परिचित महिला के माध्यम से फरियादी से समझौते के बदले राशि की मांग करता रहा। इस बीच उसने कई बार उज्जैन एसपी, एडिशनल एसपी सहित महिला थाने की टीआई का भी जिक्र किया। यही नहीं, अहिरवार ने जज के बारे में भी अनर्गल टिप्पणी की।

आरोपी बंटी बिंदल की पत्नी रजनी ने कहा कि शुरू में 5 लाख रुपए मांगे जा रहे थे। समझौता कराने के लिए कई बार फोन किए गए थे। नहीं मानने पर दुष्कर्म का आरोप लगाकर अब 25 लाख मांगे जा रहे हैं। इस संबंध में उन्होंने शंकर अहिरवार के ऑडियो भी दिए हैं।

पुलिस जब फैक्ट्री पहुंची तो महिला इस तरह मिली थी।
पुलिस जब फैक्ट्री पहुंची तो महिला इस तरह मिली थी।

बीजेपी नेता शंकर अहिरवार और बिंदल के परिवार के बीच बातचीत के ऑडियो के अंश।
(हालांकि इन ऑडियो की पुष्टि भास्कर नहीं करता है।)

शंकर अहिरवार - कोर्ट का कोई मालिक नहीं जज को कब क्या मूड में आ जाए, जज तो पागल होते हैं, उन्हें तो अहम रहता है, उनका तो लक्ष्य रहता है। मैंने इतने साल में इतनी सजा सुनाई और इतने माफ किए। बिंदल परिवार की महिला नीतू - हां, आप सही बोल रहे हो। शंकर अहिरवार - पत्रकार को इनके खिलाफ कर देंगे, महिला के खिलाफ पेपरों में छपवा देंगे। नीतू - हां सही है, पत्रकारों को सेट करना जरूरी है। वे सेट हो जाएंगे तो तकलीफ नहीं देंगे। शंकर अहिरवार - एससी एसटी एक्ट ने बहुत लोगों का नुकसान कर दिया। नीतू - हां वो तो है। शंकर अहिरवार - टीआई को सेट कर लेंगे। कलेक्टर से बोलकर महिला को जमीन का पट्टा दिलवा देंगे। उसे और क्या चाहिए। मैं रवि (नीतू का परिचित) को बीजेपी के संभागीय कार्यालय में बुला लूंगा। वहां वो किसी भी भाजपा नेता या कार्यकर्ता से पूछेगा, तो सभी बता देंगे कि अहिरवार कितना वजनदार नेता है। इससे रवि को भी विश्वास हो जाएगा।

नीतू - जी ठीक है। आप हमारे लिए बहुत मेहनत कर रहे हो। हमारा तो यही प्रयास है कि कोई भी निर्दोष न फंसे। दोनों तरफ के बच्चे बड़े परेशान हो रहे हैं।

नीतू - हमें उस महिला से किसी भी तरह बातचीत तो करना होगी। आप महिला थाना टीआई रेखा वर्मा से उसका दूसरा नंबर ले लो।
शंकर अहिरवार - (पुलिस पर आरोप लगाते हुए) पुलिस भी मिली हुई रहती है दोनों तरफ से। यदि पीड़ित महिला का दूसरा नंबर मांगेंगे, तो वे हमें दूसरा नंबर दे देंगे। इससे पुलिस को भी समझ आ जाएगा कि मैं मामला सेटिंग करा रहा हूं। पुलिस यहां दोहरा रवैया रखेगी। इसलिए हमें बचकर चलना होगा। पूरे प्रदेश में मुझे जानते है। एसपी भी मुझसे बाहर नहीं है मुझसे, उसे भी सेट करवा दूंगा।
नीतू - हमें किसे और कितना पैसा देना पड़ेगा?
शंकर अहिरवार - चार पत्रकार रिंकू मालवीय और अजय आदि को भी पैसा देना पड़ेगा। पत्रकारों को टुकड़े डालकर चारों पत्रकार को बैठा दूंगा। फिर वो मुंह नहीं खोलेंगे। प्रेस क्लब के 300 मेंबर मुझसे जुड़े हैं। पत्रकारों को उठवाकर ऑफिस बुलवा लूंगा इतनी ताकत तो रखता हूं कि टुकड़े फेंक देंगे इनको, तो कोई बोलेगा नहीं। महिला थाने की टीआई रेखा वर्मा को भी देना पड़ेगा, नीयत खराब रहती है इन लोगों की, इसलिए देना पड़ता है।
नीतू - कैलाश जी से बात करके देखिए, यदि वे कुछ कर पाएं?
शंकर अहिरवार - बीजेपी प्रदेश प्रवक्ता राजपाल सिंह ने खेल बिगाड़ दिया है।

पूरे मामले की जांच हो - व्यापारी संगठन
नई पेठ व्यापारी एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय अग्रवाल ने कहा कि मामले में बंटी बिंदल को फंसाया गया है। महिला के साथ कुछ कथित पत्रकार मिले हैं, उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है, लेकिन मामला दर्ज नहीं हो सका है। वहीं, अहिरवार को 15 हजार रुपए भी दिए। मामले की निष्पक्ष जांच होना चाहिए।

बिंदल परिवार की शिकायत सीएसपी को सौंपी, जांच कराएंगे - एएसपी
एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह ने बताया कि मामले में बंटी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। अब मामला कोर्ट में है। बिंदल परिवार की ओर से की गयी शिकायत सीएसपी को सौंपी गयी है, जो भी जांच में आएगा उस पर कार्रवाई की जाएगी।

वायरल ऑडियो के बारे में कुछ नहीं कह सकता - शंकर अहिरवार
बीजेपी नेता शंकर अहिरवार ने कहा कि ऑडियो के बारे में कुछ नहीं कह सकता। मैं फिलहाल बाहर हूं। जब उज्जैन आऊंगा, तब ऑडियो सुनकर ही बता पाऊंगा। मामले में मेरी बात भोपाल निवासी नीतू से चल रही थी। उसी का फोन आया था कि आपका समाज में अच्छा वर्चस्व है, तो हमारी मदद कीजिए, लेकिन हमारी समाज की महिला के साथ अन्याय हुआ है, इसलिए मैंने महिला की ओर से कल बात रखी थी।

मैंने तो बिंदल परिवार के सदस्यों को गृहमंत्री से मिलवाया है - राजपाल सिसौदिया
बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता राजपाल सिसौदिया ने कहा कि मैंने बंटी बिंदल के परिवार को गृह मंत्री से मिलवाया था। शायद इसीलिए अहिरवार मेरे बारे में कह रहे हैं कि मैंने खेल बिगाड़ दिया। फिलहाल, मैं चुनाव कार्यक्रम में ओंकारेश्वर में हूं। उज्जैन आकर ही बता पाऊंगा।

ये है मामला
नागझिरी स्थित उद्योगपुरी क्षेत्र में बंटी बिंदल ने पोहा फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूर महिला को फैक्ट्री में ही कमरा दे रखा था। पति की मौत के बाद महिला यहां रहने लगी। बाद में बंटी ने उसे कमरा खाली करने को कहा, लेकिन महिला इसके लिए तैयार नहीं थी। कई बार कमरा खाली करने को लेकर महिला और बंटी का विवाद भी हुआ। इस बीच 5 सितंबर को रात करीब 11 बजे महिला ने पुलिस को कॉल कर फैक्ट्री बुलाया। यहां उसे अपने अपहरण होने की जानकरी दी। पुलिस को महिला बंधी हुई हालत में मिली थी। अगले दिन पुलिस ने 35 हजार रुपए में महिला और फैक्ट्री संचालक के बीच समझौता करवा दिया। इसके बाद भी महिला ने बंटी बिंदल के खिलाफ अपहरण और बलात्कार की रिपोर्ट दर्ज कराई। कोर्ट में धारा 164 में बयान दर्ज करा दिए।

खबरें और भी हैं...