पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Women Said Have Been Standing For Five Hours, The Number Did Not Come, There Was A Jiggle And Scuffle At The Center, The Police Caught Two Including The Woman

वैक्सीनेशन कम है, केस बढ़े तो संभलना मुश्किल:महिलाएं बोलीं- पांच घंटे से खड़े हैं, नंबर नहीं आया, सेंटर पर झूमाझटकी और धक्का-मुक्की, पुलिस ने महिला सहित दो को पकड़ा

उज्जैन16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आईटीआई सेंटर पर वैक्सीनेशनल के लिए इस तरह लंबी कतार लगी हुई थी। यहां हंगामा भी हुआ। - Dainik Bhaskar
आईटीआई सेंटर पर वैक्सीनेशनल के लिए इस तरह लंबी कतार लगी हुई थी। यहां हंगामा भी हुआ।

वैक्सीन के डोज कम और सेंटर पर वैक्सीन लगवाने वालों की लंबी कतार...वैक्सीनेशन की गति धीमी...सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने वाला भी यहां कोई नहीं। नतीजतन पांच घंटे से कतार में खड़े महिला-पुरुषों के सब्र का बांध टूट गया और उन्होंने मक्सी रोड स्थित महिला आईटीआई के वैक्सीन सेंटर पर बुधवार दोपहर 12.30 बजे हंगामा कर दिया। सेंटर के कर्मचारियों को पुलिस को बुलवाना पड़ा। कतार में लगी महिलाओं ने कहा, हम लोग सुबह से आए हैं, पांच घंटे हो गए हैं। डबल लाइन लगाकर दूसरे लोगों को अंदर बुलाकर वैक्सीन लगाई जा रही है। हम लोगों को भगाया जा रहा है। हंगामा हुआ उस समय तक केवल 12 डोज ही बचे थे और लोगों की लंबी कतार लगी हुई थी। हंगामे की सूचना मिलने पर 100 डायल पहुंची और लोगों को कतार में लगवाया। यहां से दो लोगों को पुलिस ने पकड़ा है। शहर में 56 सेंटर पर सोमवार को वैक्सीनेशन शुरू हुआ। जहां कोविशील्ड व को-वैक्सीन का पहला और दूसरा डोज एक साथ लगाने की सुविधा होने से सेंटर पर भीड़ लग गई।

महिला आईटीआई सेंटर पर अपनी बारी के इंतजार में सुबह से कतार में लगे कुछ लोग वैक्सीनेशन रूम में पहुंच गए और जिला टीकाकरण विभाग के कर्मचारियों पर दूसरे लोगों को वैक्सीन लगाने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया। उन्होंने कहा, हम लोग पांच घंटे से खड़े हैं, हमारा नंबर अब तक नहीं आया और दूसरे लोग आकर वैक्सीन लगवा रहे हैं। हंगामे के दौरान धक्का-मुक्की और झूमाझटकी भी हुई।

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं
कोविड प्रोटोकॉल के तहत सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी सेंटर पर नहीं हो रहा है। लोग पास-पास में ही कतार में लगे हुए थे। जिसके चलते संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। हंगामे की सूचना मिलने पर पुलिस ने सेंटर पहुंच कर महिला-पुरुष को पकड़ा और माधवनगर थाने ले गई।
सभी सेंटर पर पर्याप्त डोज भेजे
सभी सेंटर पर पर्याप्त डोज भेजे गए थे। कुछ वैक्सीनेशन सेंटर पर भीड़ ज्यादा थी। कुछ लोग हंगामा कर रहे थे, जिससे वैक्सीनेशन का कार्य प्रभावित हो रहा था, इसलिए पुलिस को बुलवाना पड़ा।-डॉ. केसी परमार, जिला टीकाकरण अधिकारी

वैक्सीन खत्म का कहकर बुजुर्गों को लौटाया

शहर के एक सेंटर पर वैक्सीन खत्म का कहते हुए बुजुर्ग दंपती सहित कई लोगों को बगैर टीका लगाए ही लौटा दिया गया। मामला शक्करवासा एकीकृत माध्यमिक विद्यालय वैक्सीनेशन सेंटर का है। लोगों को भाजपा से जुड़े एक बाहरी व्यक्ति ने कहा वैक्सीन खत्म हो गई। उसके बाद लोग लौट गए। लाइन में खड़े लोगों को अलग कर अपने परिचित लोगों को वैक्सीन के लिए कर्मचारियों पर दबाव भी बनाया गया। साथ ही कर्मचारियों से अभद्रता भी की।

वैक्सीनेशन सेंटर बने शासकीय एकीकृत माध्यमिक विद्यालय शक्करवासा पर बुधवार को कोविशील्ड के दूसरे डोज का वैक्सीनेशन सुबह से शुरू होते ही लाइन में खड़े वैक्सीनेशन करवाने आए लोगों को वैक्सीनेशन खत्म होने की बात कहकर बैरंग लौटा दिया गया। वहीं सेवाएं दे रहे स्वास्थ्य, शिक्षा और महिला बाल विकास विभाग के कर्मचारियों से अभद्रता भी की। भाजपा नेता की वैक्सीनेशन सेंटर पर चार घंटे मौजूदगी से वहां सेवा दे रहे कर्मचारी खुद को असहज महसूस करते रहे थे।

कोविशील्ड का पहला व दूसरा तथा को-वैक्सीन का दूसरा डोज ही लगेगा

कोविशील्ड का पहला और दूसरा डोज गुरुवार को लगेगा। इसके लिए 18 सेंटर पर वैक्सीनेशन होगा। प्रत्येक सेंटर पर 400 टीके व 2 टीकाकरण टीम लगाई गई है। ताकि टीकाकरण में ज्यादा समय न लगे। काे-वैक्सीन का केवल दूसरा डोज ही लगेगा। इसके लिए सेंटर बनाए गए हैं। वैक्सीन के डोज की उपलब्धता कम होने के चलते सेंटर कम किए गए हैं और को-वैक्सीन का फर्स्ट डोज नहीं लगाया जा रहा है। वैक्सीन कम मिलने से वैक्सीनेशन सेंटरों पर लोगों की भीड़ देखी जा रही है।

खबरें और भी हैं...