पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

व्यापारियों की चली जिद:प्रशासन ने बदली शर्तें, सप्ताह में 5 दिन खुलेंगी दुकानें, दो दिन लॉकडाउन

शाजापुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पूरा बाजार लॉक - Dainik Bhaskar
पूरा बाजार लॉक
  • अनलॉक के बाद पहली बार पूरा शहर बंद, ऐसे ही हारेगा कोरोना

शहर के व्यापारियों की जीद के आगे प्रशासन को अनलॉक की शर्तों को बदलाना ही पड़ा। यह निर्णय रविवार को रेस्ट हाउस पर आयोजित स्थानीय संकट प्रबंधन समिति सदस्यों के हुई बैठक में लिया गया। अब शहर का बाजार पूरे पांच दिनों तक सभी दुकानों के साथ खुलेगा।

बस दो दिन यानी शनिवार व रविवार पूरी तरह से लॉकडाउन रहेगा। अनलाॅक के पांच दिन और लाॅकडाउन के दो दिनों के दौरान व्यापारियों को सख्ती से कोविड नियमों का पालन करने की चेतावनी भी दी गई। एक सप्ताह अनलॉक के बाद रविवार को फिर एक बार शहर लॉकडाउन किया गया। कोरोना से पूरी तरह से मुक्त होने तक रविवार का लॉकडाउन आने वाले समय में भी जारी रहेगा। हालांकि छोटी-छोटी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए लोगों ने गली-मोहल्ले की दुकानों से खरीदी की, जबकि मुख्य बाजार में आवाजाही कम रही।

दुकानों पर लटके ताले कोरोना संक्रमण के खिलाफ ढाल का काम कर रहे हैं, क्योंकि बाजार में एक-दूसरे के संपर्क में आने से ही कोरोना संक्रमण तेजी से फैला था। कोरोना मरीजों की संख्या में कमी तो आई, पर संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए रविवार को लॉकडाउन आने वाले दिनों में भी जारी रहेगा।

स्थिति : आर्थिक संकट कम करने के लिए अनलॉक होना जरूरी
आर्थिक रूप से टूट चुके लोगों की जिंदगी को वापस पटरी पर लाने के लिए अनलॉक जरूरी था। इसे देखते हुए 1 जून से शहर अनलॉक कर दिया है। रविवार को लॉकडाउन के दौरान बगैर मास्क पहने बाजार में घूमने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस और नगर पालिका ने संयुक्त रूप से कार्रवाई की। पटवारी नीना पचौरे सहित पुलिसकर्मी एवं नगर निगम के कर्मचारी चालानी कार्रवाई करते दिखाई दिए।
लापरवाही : पुलिस के सामने बगैर मास्क निकल गए कई बाइक सवार
चेकिंग पाइंट पर चार जवान, पटवारी पचौरे और नपा कर्मचारी की मौजूदगी में कई लोग बगैर मास्क लगाए चकमा देकर निकल गए। ऐसे कई बाइक सवारों को पुलिस कर्मी रोक ही नहीं पाए। वहीं कोविड सेंटर के सामने से बाइक से जा रहे मजदूर वर्ग का एक युवक पत्नी और दो छोटे बच्चों को पुलिस ने रोका और समझाइश दी।

खुद के खर्चे से चार मास्क खरीदें और सभी को मास्क लगवाए। बस स्टैंड के समीप ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी बगैर मास्क पहने बाइक पर बैठे दिखाई दिए।
बैठक में निर्णय : शर्तों में बदलाव के साथ सख्ती से पालन करें नियम
इधर देर शाम स्थानीय रेस्ट हाउस में एक बार फिर हुई बैठक में एसडीएम अजीत श्रीवास्तव, एसडीओपी दीपा डोडवे, तहसीलदार राजाराम करजरे और सीएमओ भूपेंद्र दीक्षित ने सकंट प्रबंधन समिति के सदस्यों प्रदीप चंद्रवंशी, शीतल भावसार, नवीन राठौर सहित अन्य सदस्यों से चर्चा करते हुए अनलॉक की शर्तों को व्यापारियों के अनुरूप बदल दिया। लेकिन इस दौरान यह भी तय किया कि किसी भी सूरत में नियमों की अनदेखी न हो और सख्ती से पालन करना हाेगा।

खबरें और भी हैं...