बच्चों के हित में सीएम का बड़ा फैसला:1 से 12वीं तक की कक्षाएं बंद, प्रदेश में फैलते कोरोना संक्रमण को देखते हुए लिया निर्णय

शाजापुर6 महीने पहले
कक्षा 1 से 12वीं तक की कक्षाएं बंद।

मध्यप्रदेश सरकार ने कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए कक्षा 1 से 12वीं तक की कक्षाएं बंद करने का निर्णय लिया है। इस निर्णय से शिक्षक भी खुश है और इसे बच्चों के हित में बड़ा फैसला बता रहे हैं। स्कूल भले ही 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ संचालित हो रहे थे लेकिन बच्चों में और शिक्षकों में कोरोना का भय बना हुआ था। स्कूल में बच्चों की भीड़ से शिक्षक और अभिभावकों में डर बना हुआ था।

सीएम का निर्णय सराहनीय

शाजापुर के शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय की प्रभारी प्रर्चाय विजया सक्सेना ने बताया सीएम ने आज प्रदेश में कक्षा 1 से 12वीं तक के शासकीय और निजी विद्यालयों को 15 जनवरी से बंद करने का जो निर्णय लिया है, यह बच्चों के हित में बड़ा फैसला है। कोरोना के चलते अभिभावकों में भी बच्चों को लेकर भय बना हुआ था। शिक्षक भी कोरोना संक्रमण को लेकर स्कूल आने से डर रहे हैं। इस निर्णय से सभी को राहत मिली है। स्कूलों में बच्चों के आने से भीड़ हो रही थी और संक्रमण फैलने का डर था।

खबरें और भी हैं...