शाजापुर में मकर संक्रांति की धूम:गायों को चारा और तिल खिचड़ी खिलाई, 14 और 15 को मनाया जा रहा है पर्व

शाजापुर4 महीने पहले
गाय को चारा खिलाते हुए लोग।

हिंदू धर्म में मकर संक्रांति का पर्व बेहद ही खास माना जाता है। इस दिन सूर्य देव मकर राशि में प्रवेश करते हैं। आमतौर पर ये पर्व 14 जनवरी को मनाया जाता है लेकिन कभी कभार ये पर्व 15 जनवरी को भी पड़ता है। इस बार ये पर्व दोनों तारीखों में मनाया जा रहा है। मकर संक्रांति पर स्नान-दान की परंपरा है। साथ ही यह पर्व विशेष तौर पर गौ माता को घास और तिल खिचड़ी खिलाने का विशेष महत्व है।

गौमाता को खिलाई घास

शाजापुर में भाजपा कार्यकर्ताओं, हिन्दूवादी संगठन और लोगों ने सार्वजनिक स्थानों पर रहने वाले गायों मवेशियों को चारा और तिल खिचड़ी खिलाई। भाजपा नगर मंडल और विश्व हिन्दू परिषद ने सुबह-सुबह शहर के विभिन्न इलाकों में पहुंचकर गायों को चारा खिलाया, भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष नवीन राठौर ने बताया कि गाय हमारी माता है और वैसे तो हर रोज इसकी सेवा करने का अवसर मिलता है। लेकिन मकर संक्रांति के पर्व के खास मौके पर पर हमने आज अपने कार्यकर्ताओं के साथ गौ माता को चारा खिलाकर इस पर्व की शुरुआत की। इसके अलावा कई आमजन भी जगह-जगह मवेशियों को गुड़ चना चारा खिलाते दिखे।

खबरें और भी हैं...