पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Shajapur
  • Dr. Gupta Did Not Get Out Of The Car For Fear Of Arrest, Left His Partner, The Responsibility Of Civil Surgeon Now To Dr. Jaiswal

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जमीनी विवाद:डॉ. गुप्ता गिरफ्तारी के डर से कार से ही नहीं उतरे, साथी को छोड़ चले गए, सिविल सर्जन की जिम्मेदारी अब डॉ. जायसवाल को

शाजापुर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिसने एससी-एसटी एक्ट में रिपोर्ट दर्ज कराई पुलिस ने उसे ही गिरफ्तार कर लिया

जमीनी विवाद में सिविल सर्जन और जमीन मालिकों के बीच हुए खूनी संघर्ष में घायल शर्मा बंधुओं की स्थिति गंभीर होने पर इंदौर रैफर कर दिया। देर रात अपने साथियों के साथ क्राॅस रिपोर्ट लिखाने पहुंचे डॉ. शुभम गुप्ता गिरफ्तारी के डर से अपने साथी को थाने पर ही छोड़कर चले गए।

इसके बाद कोतवाली पुलिस ने पहले प्रकरण के नामजद आरोपी राका की शिकायत पर प्रवीण और मिथुन शर्मा पर जान से मारने की धमकी सहित एसीएसटी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर राका को ही गिरफ्तार कर लिया। इधर, 307 का प्रकरण दर्ज होने के बाद जिला प्रशासन से जारी आदेश के बाद डॉ. गुप्ता को सिविल सर्जन पद से हटाने के बाद अब डॉ. एस.डी. जायसवाल को जिम्मेदारी सौंपी दी है।

ज्ञात रहे काशीनगर क्षेत्र के पास होमगार्ड मैदान के पीछे की जमीन प्रवीण शर्मा ने डॉ. शुभम गुप्ता के जरिए सौदा किया था। रुपए का लेन-देन भी दोनों पक्षों के बीच हो गया। पर जमीन की नपती को लेकर शुरू हुई कहासुनी पहले विवाद में बदली और बुधवार रात को खूनी संघर्ष हो गया।

इसमें प्रवीण और मिथुन गंभीर घायल हो गए। इधर, दूसरे पक्ष के डॉ. गुप्ता और उनके साथी राका को भी चोट आई है। एक पक्ष यानी शर्मा बंधुओं की रिपोर्ट दर्ज होने के बाद देर रात डॉ. शुभम गुप्ता भी थाने पहुंचे, लेकिन वह कार से बाहर तक नहीं निकले। उनके कर्मचारी राका ने ही रिपोर्ट दर्ज कराई।

पूर्व में दो बार इस्तीफा देने वाले डॉ. जायसवाल को फिर सौंपी जिम्मेदारी

जानलेवा हमले के आरोप में घिरे डॉ. गुप्ता पर धारा 307 के तहत प्रकरण दर्ज होते ही जिला प्रशासन ने उन्हें सिविल सर्जन के पद से हटा दिया। जिला अस्पताल की व्यवस्था संभालने के लिए एक बार फिर डॉ. जायसवाल को जिम्मेदारी सौंपी गई है। ज्ञात रहे डॉ. जायसवाल इसके पहले भी दो बार सिविल सर्जन के पद पर रह चुके हैं। उन्होंने दोनों बार इस्तीफा दे दिया था। इस बार भी डॉ. जायसवाल इस पद पर रहने से मना कर रहे हैं।

घायलों को इंदौर रैफर किया

इधर, हमले में घायल हुए प्रवीण और मिथुन की स्थिति को देखते हुए जिला अस्पताल से इंदौर रैफर कर दिया गया। शर्मा के परिजन ने बताया कि सिर पर आई चोट के कारण दोनों की हालात अभी भी गंभीर बनी हुई है। इधर, कोतवाली टीआई उदयसिंह अलावा के अनुसार दूसरे फरियादी राका की शिकायत पर प्रवीण और मिथुन पर जान से मारने की धमकी सहित एसीएसटी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया है। आरोपियों की तलाश भी की जा रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें