साइबर क्राइम / फेसबुक आईडी हैक कर ठगी करने की कोशिश

X

  • नागदा के आरक्षक घनश्याम की जागरूकता के कारण ठगी से बचे भाई

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:03 AM IST

शाजापुर. लॉकडाउन के चलते फेसबुक आईडी हैक कर ठगी करने के शाजापुर में पांच से अधिक मामले सामने आए। ऐसे ही कुछ मामले नागदा में भी हो चुके हैं। बड़ी बात यह रही कि शातिर बदमाशों को शहर के इन युवाओं ने करारा जवाब भी दे दिया। ऐसी ही ठगी का मामला शाजापुर के लालघाटी थाने क्षेत्र में रहने वाले शिक्षक के साथ शनिवार को हुआ। दूसरे शहरों में बैठे बदमाशों ने शिक्षक भाई की फेसबुक आईडी हैक कर उसके भाई नागदा थाने में पदस्थ पुलिस जवान को मुसीबत में फंसे होने पर रुपए डालने का मैसेज किया।

पुलिस जवान यह मैसेज देख खुद तो सतर्क हुआ, साथ ही अपने अन्य रिश्तेदारों और दोस्तों को भी अलर्ट कर दिया। इससे एक बार फिर साइबर ठगी की बड़ी वारदात होने से बच गई।
जानकारी के अनुसार शिक्षक शीतल मालवीय नामक युवक की फेसबुक आईडी हैक होने की जानकारी उन्हें तब लगी, जब नागदा थाने में पदस्थ भाई आरक्षक घनश्याम मालवीय ने उन्हें इस ठगी के बारे में बताया। आरक्षक ने बताया कि मैसेज आने पर जब उन्होंने फेसबुक मैसेंजर पर बातें करना शुरू की तो शातिर बदमाश ने आईडी की इतनी डिटेल निकाल ली थी कि किसी को भी शंका न हो। पर उनके एक मित्र और पूर्व में भास्कर में प्रकाशित खबर को देख इस हैकिंग के बारे में उन्हें पहले से ही जानकारी थी।

उन्होंने बदमाश से चेटिंग करते हुए जब अपना पुलिसिया परिचय दिया तो उसने बात करना बंद कर दी। घनश्याम के अनुसार भाई शीतल की आईडी से उसके कई दोस्तों को भी इस तरह के मैसेज गए थे। बाद में पुलिस से शिकायत कर आईडी को ब्लाॅक करा दिया। 
आपकी जागरूकता ही ठगी से बचने का हथियार
ज्ञात रहे साइबर ठगी के इस मामले में जागरूकता ही शातिर बदमाशों को जवाब देने के लिए सबसे बड़ा हथियार साबित हो रहा है, क्योंकि जिला स्तर पर संसाधनों के अभाव में काम कर रही साइबर सेल के पास एक्सपर्ट हैं। पर छोटे-छोटे अमाउंट की ठगी इन केस में पुलिस ज्यादा मशक्कत नहीं करती। पुलिस विभाग से जुड़े एक्सपर्ट का भी मानना है कि लोगों की जागरूकता ही बदमाशों को सलाखों के पीछे पहुंचा सकती है। इसलिए हमेशा ऐसे मामलों में जागरूक रहें।
रिटायर्ड एसडीओपी का वीडियो वायरल
शाजापुर पुलिस महकमे में रह चुके एसडीओपी रवि अतरोलिया का इन दिनों एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। एसडीओपी अतरोलिया ने लॉकडाउन के दौरान शातिर बदमाशों के सक्रिय होने की बात कहते हुए इनसे बचने की जानकारी भी अपने वीडियो में दी है। उनके अनुसार लंबे समय बाद बाजार का असर अपराध का ग्राफ बड़ा सकता है। उन्होंने अलर्ट जारी करते हुए कहा कि महिलाएं शाम के समय घर से बाहर निकलते समय कीमती आभूषण न पहने, अनजान व्यक्तियों से संपर्क बनाने में सतर्क रहें। किसी भी संदिग्ध गतिविधियों को दिखाई देते ही पुलिस को सूचना दें।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना